जासं, मैनपुरी: बेलगाम कोरोना का कहर तो जारी है, लेकिन पिछले 24 घंटों में इसकी रफ्तार थोड़ी थमी सी नजर आई। सिर्फ 10 मरीजों में ही संक्रमण की पुष्टि होने पर प्रशासन ने राहत भरी सांस ली है। सभी को आइसोलेट कराया गया है।

सोमवार को बेवर, जगतपुर, नगला कुशल दन्नाहार के एक-एक मरीज पॉजिटिव पाए गए। वहीं शहरी क्षेत्र में सात लोगों में संक्रमण पाया गया है। इनको मिलाकर जिले में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़कर 2773 पहुंच गई है। 424 एक्टिव केस हैं। सीएमओ डॉ. एके पांडेय का कहना है कि कैंपों के माध्यम से लगातार लोगों को कोविड प्रोटोकाल का पालन करने की अपील की जा रही है। कार्यालय में बनी डेस्क के जरिए भी फोन से मरीजों का हाल पूछकर उनकी मॉनीटरिग कराई जा रही है।

55 मरीज हुए ठीक, घर भेजा: कोरोना संक्रमण से एल-1 और एल-2 में भर्ती रहे 55 मरीजों को ठीक होने के बाद चिकित्सकों ने प्रमाण पत्र देकर घर भेज दिया। सभी को एक हफ्ते तक घर में स्वजन से दूर रहने की सलाह दी गई। नियमित मास्क पहनने और घर में अपनों के बीच भी शारीरिक दूरी का पालन करने को कहा गया।

फरियादी तोड़ रहे थे सामाजिक दूरी का नियम, डीएम नाराज:

जागरण संवाददाता, मैनपुरी: डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने सोमवार सुबह 11 बजे चकबंदी अधिकारी कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। कार्यालय में शारीरिक दूरी का पालन नहीं किया जा रहा था। इस पर डीएम ने नाराजगी जताई।

डीएम जब कार्यालय में पहुंचे तो फरियादियों की भीड़ लगी हुई थी। कोई भी शारीरिक दूरी का पालन नहीं कर रहा था। डीएम ने चकबंदी अधिकारी को निर्देशित किया कि कार्यालय में शारीरिक दूरी का पालन कराया जाए। सभी मास्क का अनिवार्य रूप से प्रयोग करें। कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन कराया जाए। कार्यालय का कोई भी कर्मी बिना मास्क लगाए न बैठे। मुख्य द्वार पर हैंड सैनिटाइजर की व्यवस्था रहे। कर्मचारियों के साथ हर फरियादी के हाथ सैनिटाइज कराए जाएं। कोरोना हेल्प डेस्क हर हाल में संचालित रहे। प्रत्येक व्यक्ति की थर्मल स्क्रीनिग करे। यदि किसी में लक्षण नजर आते हैं तो उसका पूरा विवरण पंजिका में अंकित कर तत्काल कंट्रोल रूम को सूचना दी जाए।

डीएम ने कहा कि चकबंदी प्रक्रिया को तय समय में पूरा किया जाए। कार्यालय आने वाले फरियादियों की शिकायत का तत्काल निदान किया जाए। अभिलेख अपडेट रहें। पत्रावलियों पर पृष्ठ संख्या अंकित की जाए। डीएम ने चेतावनी दी कि यदि निरीक्षण के दौरान बिना पूर्व अनुमति के कोई अधिकारी-कर्मचारी कार्यालय से अनुपस्थित मिला तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस