जासं, मैनपुरी: कायाकल्प अवार्ड के लिए पहुंची शासन की चार सदस्यीय टीम ने जिला अस्पताल में सुविधाओं को देखा। सीमित संसाधनों में बेहतर इंतजाम के लिए जिला अस्पताल प्रशासन की पीठ थपथपाई, वहीं कुछ खामियां दुरुस्त करने के निर्देश दिए।

दो दिवसीय दौरे पर आई टीम गुरुवार को भी जिला अस्पताल में ही रही। डिवीजनल मैनेजर अलीगढ़ तरुण भारद्वाज, डीपीएम अलीगढ़ महेंद्र सिंह, डीपीएम हाथरस बलवीर सिंह और आगरा के मंडलीय क्वालिटी सलाहकार डॉ. विकास त्यागी ने गुरुवार को सुविधाओं का स्थलीय सत्यापन किया। पैथोलॉजी में उपयोग हो रहीं मशीनों के साथ अलग-अलग जांच में प्रयुक्त होने वाले केमिकल के बारे में कर्मचारियों से पूछताछ की। नर्सिंग कक्ष में स्टाफ नर्स से मरीजों के बारे में बात की। सीएमएस डॉ. आरके सागर और वरिष्ठ चिकित्सकों के साथ चर्चा में विशेषज्ञ चिकित्सकों की कमी पर भी रिपोर्ट बनाकर शासन को सौंपने को कहा है। बेहतर इंतजाम मिलने पर अस्पताल प्रशासन की तारीफ करते हुए और बेहतर करने की नसीहत दी।

स्वच्छता-बागवानी ने रखा मान

अस्पताल परिसर में सफाई और खाली स्थान पर कराई गई बागवानी से आकर्षित टीम के सदस्यों ने इसे सकारात्मक पहल बताते हुए चिकित्सकों से भी परिसर को और ज्यादा हरा-भरा बनाने की अपील की।

उत्साहित स्टाफ को बधाई उम्मीद

सर्वे में सब कुछ बेहतर मिलने के बाद नर्सिंग स्टाफ ने टीम के सदस्यों से पुरस्कार के बारे में जानने का प्रयास किया तो टीम ने मुस्कुराकर उन्हें अपना कर्म करने की सलाह देते हुए जिम्मेदारी निभाने की बात कही।

कोशिश करिए लागू हो पर्ची सिस्टम

वार्डों में मरीजों से मुलाकात के लिए पर्ची सिस्टम लागू करने की सलाह देते हुए कहा कि जो भी तीमारदार वार्ड में मरीज के साथ रुकें, उन्हें स्लिप जारी कराने का प्रयास करें, ताकि व्यवस्था बेहतर बनी रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस