संसू, भोगांव: जैन मंदिरों में अनंत चतुर्दशी पर्व पर पूरे श्रद्धाभाव के साथ मनाया गया। मंदिरों में विशेष पूजन कर भगवान अनंतनाथ की आराधना कर तीर्थकर वासुपूज्य का निर्वाण लाडू चढ़ाया। महिलाओं ने निर्जल व्रत रखकर आत्मकल्याण की कामना की।

नगर के श्री पा‌र्श्वनाथ दिगंबर जैन मंदिर व चंद्रप्रभु दिगंबर जैन मंदिर में सुबह से ही श्रद्धालु उमड़ने लगे। मंदिरों में सामूहिक रूप से जैन धर्म के चौदहवें तीर्थकर भगवान अनंतनाथ की विशेष पूजन कर विश्वशांति की कामना की गई। धर्मसभा में जैन विद्वान पं. रवि कुमार जैन शास्त्री ने कहा कि व्यक्ति को जीवन में धर्मपूर्वक आचरण करना चाहिए। जन्म मरण के दुखों से पार पाने के लिए तथा मोक्ष सुख प्राप्त करने के लिए धर्म पालना चाहिए। धर्म पालने के लिए दशा नहीं मात्र दिशा बदलने की आवश्यकता है। सदमार्ग पर लगा लेने से धर्म का पालन स्वमेव हो जाता है। उन्होंने दस धर्मों का सार बताते हुए कहा कि उत्तम क्षमा संसार के प्रत्येक प्राणी के प्रति क्षमाभाव धारण करने का उपदेश देता है। उत्तम संयम जीवों की रक्षा करने व जीवन में संयम से रहना सिखाता है। उत्तम तप इच्छाओं के निरोध का रास्ता बताता है।

इस दौरान पुलिस उपाधीक्षक प्रयांक जैन, केआरसी ट्रस्ट के अध्यक्ष नलिन कुमार जैन, जयगुप्त जैन, डा. योगेश जैन, अशेष जैन, आशू जैन, मनीष जैन, आरसी जैन, गौरव जैन, नवीन जैन, चक्त्रेश जैन, सौरभ जैन, शैंकी जैन, वीरचंद्र जैन, राकेश जैन ,अमन कुमार जैन, संजय जैन, प्रवीण जैन मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस