बेवर(मैनपुरी): सुरक्षित प्रसव और जच्चा-बच्चा को उच्चस्तरीय सुविधाएं दिलाने के लिए सरकार योजनाओं का अंबार लगा रही है। नए प्रस्ताव भी तैयार हो रहे हैं, परंतु पहले से तैयार हो चुकी सुविधाओं को संचालित करने की किसी को फिक्र नहीं। बेवर में बीते साल बना 30 शैय्या अस्पताल शुरुआत के इंतजार में शोपीस बना खड़ा है।

बेवर ब्लॉक में जच्चा-बच्चा को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए पूर्व की सपा सरकार ने 30 शैय्या मेटरनिटी अस्पताल विग का निर्माण वित्तीय वर्ष 2015-16 में शुरू कराया था। वर्ष 2018 में निर्माण पूरा हुआ। 2.55 करोड़ रुपये की लागत से तैयार इस अस्पताल को उसी साल स्वास्थ्य विभाग को हस्तांतरित भी कर दिया गया। अस्पताल बनने के बाद ग्रामीण एवं अर्बन क्षेत्र के लोगों में बेहतर इलाज की उम्मीद जगी थी, लेकिन इसके बाद से स्वास्थ्य विभाग इसको संचालित कराना ही भूल गया। बीच में क्षेत्रीय लोगों ने अधिकारियों से मांग की, जनप्रतिनिधियों के सामने भी मुद्दा उठाया, परंतु अस्पताल शुरू नहीं हो सका।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप