मैनपुरी, जागरण संवाददाता। देश में भले ही मोदी लहर काम कर गई, लेकिन सबसे चर्चित सीटों में शामिल मैनपुरी संसदीय सीट पर मोदी मैजिक नहीं चला। आपसी मनमुटाव और अति उत्सुकता में भाजपाई अपना गढ़ भी न बचा सके। गठबंधन ने शहर में भाजपा का गढ़ कहे जाने वाले बूथों पर सेंधमारी कर उनके वोट भी अपने पाले में खींच लिए। स्थिति यह रही कि जिलाध्यक्ष, जिला उपाध्यक्षों समेत सभासदों का अंकगणित भी अपने बूथों पर फेल हो गया।

2019 के लोकसभा चुनाव के परिणामों ने गठबंधन और भाजपा दोनों दलों के दिग्गजों को सोचने पर मजबूर कर दिया है। अब जबकि बूथवार हार की समीक्षा शुरू हुई है तो आंकड़ों का अंकगणित खुद की दिग्गजों की दमदारी खोलने लगा है। शहरी क्षेत्र के बूथों पर नजर डालें तो भाजपा के परंपरागत बूथ माने वाले क्षेत्रों में इस बार गठबंधन ने खूब सेंधमारी की। खरपरी से भाजपा को 3053 और सपा को 2283 वोट मिले। इस सीट को भाजपा की सीट माना जाता रहा है लेकिन इस बार गठबंधन ने यहां 770 मतदाताओं के वोट खींच लिए।

अवध नगर और एकरसानंद इंटर कॉलेज वाले बूथों पर भाजपा को 2573 और गठबंधन को 1058 वोट मिले। कुल 1515 वोटों में सेंधमारी हुई। आवास विकास कॉलोनी और शिवनगर में तो भाजपाई लगभग चित ही हो गए हैं। भाजपा को यहां से 2088 और गठबंधन को 2027 वोट मिले। यहां जीत का अंतर सिर्फ 61 वोटों ही रहा है। अपने ही बूथ न बचा पाए दिग्गज

अवध नगर और एकरसानंद इंटर कॉलेज वाला बूथ समीक्षा की सूची में पहले नंबर पर है। यहां से भाजपा को 2573 और गठबंधन को 1058 वोट मिले हैं। कुल 1515 वोटों का अंतर ही रहा है। यह स्थिति उस समय की है जबकि यहां खुद जिलाध्यक्ष आलोक गुप्ता, जिला उपाध्यक्ष प्रदीप चौहान, नगर अध्यक्ष अमित गुप्ता सहित कई महिला मोर्चा पदाधिकारियों के आवास हैं। खुद भाजपा का कैंप कार्यालय भी इसी बूथ पर है।

मधाऊ बूथ की जिम्मेदारी जिला उपाध्यक्ष अनूप मिश्रा के हाथ थी लेकिन यहां भी सेंधमारी न रुक सकी। भाजपा को यहां 1409 और गठबंधन को 1045 वोट मिले हैं। कुल 364 वोटों का ही अंतर रहा है। गाड़ीवान और सरावग्यान का बूथ सभासद गोल्डी चौहान के हाथ में था। यहां भाजपा को 1403 और गठबंधन को 1177 वोट मिले। बागवान और मदार दरवाजा के बूथों पर भी भाजपा का गणित धराशायी हो गया। भाजपा को यहां 1651 और गठबंधन को 1065 वोट मिले। एक नजर में शहर के बूथ

बूथ, भाजपा, गठबंधन, अंतर

खरपरी, 3053, 2283, 770

अवध नगर व एकरसानंद, 2573, 1058, 1515

आवास विकास व शिवनगर, 2088, 2027, 61

मधाऊ, 1409, 1045, 364

महमूदनगर, 1060, 2308, 1248

गोला बाजार, नगला पजाबा, हिदपुरम, 1298, 2543, 1008

गाड़ीवान व सरावग्यान, 1403, 1177, 226

छपट्टी, 1902, 2102, 200

संसारपुर, 1862, 2098, 236

नगला कैथ, 277, 67, 210

बागवान व मदार दरवाजा, 1651, 1065, 586

गणेशपुर, 16, 604, 588 पहली बार सपा ने किया 20 हजार का आंकड़ा पार

नगर अध्यक्ष सपा ह्देश सिंह का कहना है कि हम शहर में जीते हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव तक सपा 20 हजार के आसपास ही रहती थी लेकिन 2019 के परिणामों में शहर में हम लगभग 28500 के आसपास पहुंच चुके हैं। यह पहली बार हुआ है जबकि हमने भाजपाई गढ़ों से वोट खींचे हैं।

---------

मुलायम तक पहुंचा प्रमाण पत्र

जासं, मैनपुरी: मतगणना के दिन मैनपुरी न आने वाले मुलायम सिंह यादव के पास शनिवार को उनके सांसद बनने का प्रमाण पत्र पहुंच गया। उनके चुनाव प्रतिनिधि एडवोकेट देवेंद्र यादव ने बीती 23 मई को जीत के बाद जिला प्रशासन से यह प्रमाण पत्र प्राप्त किया था। शनिवार को देवेंद्र सिंह मुलायम सिंह यादव से उनके लखनऊ स्थित आवास पर मिले और प्रमाण पत्र सौंपा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran