किशनी, संवादसूत्र। बस न रोकने पर दबंग ने चालक को बेरहमी से पीट दिया। पुलिस ने दोनों पक्षों को हवालात में बंद कर दिया। दबंग पक्ष के तमाम लोग थाने पहुंच गए। बातचीत के बाद मामला समझौते पर निपट गया।

शिकोहाबाद डिपो की बस संख्या यूपी83टी-7451 रोजाना रात को किशनी क्षेत्र के गांव कुम्हौल में रुकती है। सुबह छह बजे कुम्होल से यात्रियों को लेकर आगरा के लिए रवाना होती है। रविवार सुबह बस कुम्हौल से दो दर्जन यात्रियों को लेकर आगरा के लिए बस रवाना हुई। शमशेरगंज के पास वहां के निवासी श्रीओम दुबे ने बस को रोकने का इशारा किया। चालक समझ पाता, तब तक बस आगे निकल चुकी थी। आगे चलकर चालक ने बस को रोक दिया। श्रीओम दुबे ने नाराज होकर अपने साथियों के साथ मिलकर बस चालक सुरेश यादव निवासी रामनगर तिराहा किशनी की बेरहमी से पिटाई कर दी। घटना से यात्री भयभीत हो गए। पिटाई से क्षुब्ध चालक बस लेकर सीधा थाना किशनी थाने पहुंचा। उसने पुलिस को तहरीर दी। इसी बीच श्रीओम दुबे पक्ष भी थाने पहुंच गया। उसने भी चालक के विरुद्ध रिपोर्ट लिखाने की मांग की। पुलिस ने दोनों पक्षों को हवालात में बंद कर दिया। जानकारी मिलने पर श्रीओम पक्ष के तमाम लोग थाने पहुंच गए। चालक पक्ष के लोग भी आ गए। दोनों पक्षों ने समझौता कर लिया। समझौता होने पर पुलिस ने दोनों पक्षों को छोड़ दिया। किसी पक्ष की रिपोर्ट दर्ज नहीं की है। इंस्पेक्टर किशनी आशीष सिंह ने बताया कि दोनों पक्ष कार्रवाई से इन्कार कर हे थे। इसलिए मामला दर्ज नहीं किया है।

Posted By: Jagran