मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

मैनपुरी, जागरण संवाददाता। महिला दारोगा पर नकदी हड़पने के आरोप की जांच के बाद सीओ सिटी ने आरोपित महिला दारोगा एकता सिंह को क्लीनचिट दे दी। वहीं शिकायतकर्ता महिला द्वारा न्याय न मिल पाने का आरोप लगाया जा रहा है।

गांव समान निवासी सुशीला ने मुहल्ला चौथियाना निवासी रामबेटी पर आरोप लगाया था कि रामबेटी ने मकान का सौदा करने के बाद बैनामा नहीं किया। ब्याना की रकम 1.20 लाख रुपये हड़प कर ली है। मामले की जांच महिला दारोगा एकता सिंह द्वारा गई थी। सुशीला का आरोप है कि कार्रवाई के दौरान रामबेटी ने ब्याना की रकम महिला दारोगा को दी है। लेकिन महिला दारोगा रकम उसे नहीं लौटा रही है। सुशीला देवी ने मूल कागज छीन लेने व चौकी से भगाने का भी आरोप लगाया था। सुशीला की शिकायत पर सीओ सिटी अभय नारायण राय ने जांच की। उनके मुताबिक महिला रामबेटी ने महिला दारोगा को रुपये न देने की बात बताई है। ऐसे में महिला दारोगा पर लगाया गया आरोप साबित नहीं हुआ है। वहीं शिकायतकर्ता सुशीला देवी का कहना है कि उसकी ब्याना की रकम अब खटाई में पड़ गई है। सुशीला ने उच्चाधिकारियों की शरण में जाने की बात कही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप