जासं, मैनपुरी : खाली प्लॉट में भरे पानी में गिरी चप्पल निकालने पहुंची बालिका की डूबने से मौत हो गई। घटना के बाद मुहल्ले के लोगों में आक्रोश फैल गया। घटना के लिए नगर पालिका को जिम्मेदार बताते हुए कैबिनेट मंत्री के घर के बाहर शव रखकर प्रदर्शन किया। पुलिस ने बमुश्किल समझा-बुझाकर हालात काबू किए।

शहर के मुहल्ला रामलीला मैदान निवासी नीरज की पुत्री गुनगुन (5) दोपहर बाद खेलने के लिए घर से निकली थी, तभी लापता हो गई। काफी देर तक घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने तलाश किया। बालिका का पता नहीं चला। तभी कुछ छोटे बच्चों ने बताया कि गुनगुन की चप्पल पास ही खाली प्लॉट में भरे पानी में चली गई थी। जिसे उठाने के लिए उन्होंने गुनगुन को पानी में घुसते देखा है।

मुहल्ले के लोगों ने बच्ची की तलाश के लिए प्लॉट में भरे पानी को उलीच कर बाहर निकाला, तो बालिका कीचड़ में फंसी मिली। स्वजन उसे लेकर अस्पताल पहुंचे। चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। गुस्साए लोग शव को लेकर कैबिनेट मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री के आवास पर पहुंच गए। भीड़ के कारण जाम लग गया। उस समय कैबिनेट मंत्री घर पर नहीं थे। पुलिस ने समझा बुझाकर लोगों को शांत किया। परिजनों ने नगर पालिका के खिलाफ तहरीर दी है। कोतवाली के इंस्पेक्टर एलओ वीरेंद्र कुमार ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। मामला दर्ज कर कार्रवाई होगी।

बालिका की मौत से उठे कई सवाल: शहर के रामलीला मैदान मुहल्ले में रविवार को बालिका गुनगुन की मौत ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं। लोग इसके लिए नगर पालिका को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। कह रहे हैं कि अगर नालियां बन जातीं तो प्लॉट में जलजमाव नहीं होता।

मुहल्ले वालों के मुताबिक, उन्होंने नगर पालिका में कई बार प्रार्थना पत्र देकर नाली बनवाने की मांग की, लेकिन उनकी मांग पर ध्यान नहीं दिया गया। नालियों का पानी हर वक्त प्लॉट में भरे होने से इसमें मच्छर पल रहे है। मलेरिया और संक्रामक बीमारियों का खतरा हर वक्त बना रहता है। अब तक मुहल्ले के लोगों को सिर्फ संक्रामक रोगों का डर रहता था। अब अपने बच्चों की सुरक्षा की चिता भी सताने लगी है।

दो दर्जन मौत के तालाब: नगर पालिका क्षेत्र में दो दर्जन से अधिक मौत के तालाब हैं। रामलीला मैदान, नगला रते, खरगजीत नगर, मुहल्ला अग्रवाल, संसारपुर, रमईहार, शिवनगर, हंस नगर , महेंद्र नगर, नगला गोवर्धन, खरपरी, महमूद नगर में तमाम ऐसे स्थान हैं जहां पर जलनिकासी न होने से जलभराव बना हुआ है।

चल रहा काम, भेजे प्रस्ताव: पालिका

नगर पालिका अध्यक्ष मनोरमा देवी ने बताया कि नगर में ऐसे बहुत से प्लॉट हैं, जहां जलभराव रहता है। नागरिकों की मांग पर वहां जल निकासी के इंतजाम के लिए प्रस्ताव भेजे गए हैं। ये मंजूर भी हो रहे हैं, कुछ जगह काम भी हो रहा है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप