जासं, मैनपुरी : सीडीओ ने बुधवार को एक दर्जन अधिकारियों को गांव, कस्बों और शहर के मुहल्लों का निरीक्षण करने के लिए दौड़ाया। अधिकारी बताए गए स्थानों पर पहुंचे और वहां के हालात देखे।

सीडीओ विनोद कुमार ने बताया कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा उपलब्ध कराई गई सूची में अंकित गांवों के निरीक्षण के लिए 12 अधिकारियों की डयूटी लगाई गई। अधिकारियों को निर्धारित गांव, वार्ड, मुहल्ले का भ्रमण कर गलियों-नालियों की साफ-सफाई, एंटी लार्वा के छिड़काव, फागिग की स्थिति, गांव में जलभराव, झाड़ियों की कटाई, बुखार का प्रकोप, चिकित्सकीय कैंप, उपलब्ध कराई जा रही चिकित्सीय सुविधा आदि बिदुओं का निरीक्षण कर सेल्फी के साथ निरीक्षण आख्या डीपीआरओ कार्यालय को उपलब्ध कराएंगे। ये अधिकारी निरीक्षण में पाई कमियों को दूर करने के लिए किए गए प्रयासों और कार्रवाई का भी उल्लेख करें।

-

ये अधिकारी लगाए निरीक्षण को

निरीक्षण के लिए उपायुक्त मनरेगा पीसी राम को ब्लाक सुल्तानगंज के ग्राम ललूपुरा, परियोजना निदेशक डीआरडीए केके सिंह को मैनपुरी के ग्राम सिकंदरपुर, जिला समाज कल्याण अधिकारी विकास विनीता को बेवर के ग्राम कल्याणपुर, जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी महेंद्र प्रताप सिंह को बेवर के ग्राम सैदपुर, सीडीपीओ अरविद कुमार को मैनपुरी के ग्राम उद्देतपुर अभई, अपर जिला सहकारी अधिकारी आशीष शुक्ला को बरनाहल के ग्राम नगला मूंझ, अपर सांख्यिकी अधिकारी पशुपालन करन सिंह को कुरावली के ज्योति खुड़िया, जिला समाज कल्याण अधिकारी इन्द्रा सिंह को नगर पालिका के वार्ड राधा नगर, डीपीआरओ स्वामीदीन को नगर पालिका के मुहल्ला अग्रवाल, जिला युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल अधिकारी संतोष चौधरी को सुल्तानगंज के अलीपुर पट्टी, प्रभारी सहायक अभियंता लघु सिचाई राजेंद्र सिंह को नगर पंचायत कुरावली के मुहल्ला पठानान और प्रभारी सहायक निदेशक मत्स्य प्रदीप कुमार को घिरोर के ग्राम कोसमा के लिए नामित किया गया।

जटपुरा गांव बनेगा माडल गांव: संसू, किशनी: ग्राम पंचायत जटपुरा में सफाई अभियान शुरू हो गया है। एसडीएम के निरीक्षण के पांच दिन बाद गांव में सफाई का काम होने लगा है। एसडीएम ने गांव को माडल बनाने की बात कही।

इटावा मार्ग पर तहसील से डेढ़ किलो मीटर स्थित चौराहे को अब जटपुरा चौराहा जाना जाता है। इसी चौराहे से एक किलोमीटर गांव जटपुरा है। एसडीएम अनूप कुमार ने चौराहे पर गंदगी देखी तो उन्होंने प्रधान सुभान अली को बुलाया। प्रधान ने मजबूरियां बताईं। एसडीएम ने साफ कहा कि वह सफाई कराएं, जो बीच में आएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

बुधवार को प्रधान ने एसडीएम के आदेश पर चौराहे से मैनपुरी मार्ग पर जेसीबी मशीन लगाकर मिट्टी डलवाई। एसडीएम गांव भी पहुंचे। यहां गलियों में गंदगी मिली तो दो तालाबों में गंदा पानी भरा है। एसडीएम ने प्रधान से कहा कि अगर दोनों तालाबों का पानी निकलवा दे तो उनका गांव माडल बनाने में बो कोई कसर नही छोड़ेंगे। एसडीएम का कहना है कि सभी ग्राम पंचायतों, नगर पंचायतों में नियमित सफाई हो, यह उनका प्रयास रहेगा। जहां भी गंदगी हो कार्यालय आकर बताएं।

Edited By: Jagran