संसू, औछा (मैनपुरी): जमीन पर जबरन कब्जा करने की कोशिश को विफल करते हुए पुलिस ने राज्यसभा सदस्य हरनाथ सिंह यादव के पौत्र ब्रजेश यादव सहित सात लोगों को हिरासत में ले लिया। दूसरा पौत्र सुधाकर अपने अन्य साथियों के साथ फरार हो गया।

थाना क्षेत्र के गांव अचलपुर निवासी कलक्टर सिंह कठेरिया और चरन सिंह कठेरिया की साझे की कुछ जमीन है। कुछ माह पहले सुधाकर यादव के साथी धनपाल कठेरिया ने चरन सिंह कठेरिया के हिस्से की जमीन का बैनामा कराया था।

मंगलवार सुबह कलक्टर सिंह ने डीएम महेंद्र बहादुर सिंह और एसपी अजय कुमार पांडेय से शिकायत की,कि सुधाकर यादव द्वारा उसके हिस्से की जमीन पर जबरन निर्माण कराया जा रहा है। तहसीलदार अजीत कुमार की जांच में अवैध निर्माण की पुष्टि होने पर निर्माण को ध्वस्त करा दिया गया। पुलिस ने बृजेश यादव, प्रदीप उर्फ कालिया, बंटी उर्फ बीरेंद्र सिंह, निवासीगण गोपालपुर, भूरे निवासी एका सहित सात लोगों को हिरासत में ले लिया। सुधाकर यादव और उनके अन्य साथी फरार हो गए।

मामले में कलक्टर सिंह ने धनपाल, सुधाकर यादव और अन्य के खिलाफ रिपोर्ट लिखाई है। हिरासत में लिए सात लोगों में से तीन का नाम एफआइआर में नहीं है।

मैं बाहर हूं। मुझे जानकारी मिली है कि गांव में किसी से मेरे पौत्रो से विवाद हो गया है। मैं कभी किसी गलत काम को समर्थन नहीं देता। पुलिस जांच के आधार पर अपनी कार्रवाई करेगी। हरनाथ सिंह यादव, राज्यसभा सदस्य

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस