जागरण संवाददाता, महोबा: शहर में पुलिस की निष्क्रियता से चोर इतने बेखौफ हो गए कि अब सरकारी कार्यालयों को निशाना बना रहे है। चोरी की वारदातें बढ़ती जा रही है, जिससे लोगों में डर व्याप्त है। रविवार की रात चोरों ने एआरटीओ कार्यालय को निशाना बनाया। गनीमत यह रही कि चोरों को यहां से कुछ नहीं मिला।

रविवार की रात को छतरपुर रोड स्थित एआरटीओ कार्यालय में ¨वडो एसी को तोड़कर चोरों ने कार्यालय के अंदर प्रवेश किया। यहां पर चोरों ने सभी कैश काउंटरों का ताला तोड़ तलाशी ली। इसके बाद कैश न मिलने पर चोरों ने कमरों के ताले तोड़ कमरे के अंदर रखी गोदरेज की अलमारी का लोक तोड़कर फाइलें, कागज फेंक दिए। पूरे कार्यालय में चोरों ने रातभर बेखौफ होकर कैश की तलाश में सामान फेंकते रहे। चोरों को कैश नहीं मिला और वो भाग गए। सुबह जब कार्यालय में लोगों का आना शुरू हुआ तो यह खबर शहर में हवा की तरह फैल गई। एआरटीओ एमपी ¨सह ने बताया कि गनीमत रही कि आफिस में कैश नहीं था। गुस्साए चोरों ने अलमारी दरवाजों को नुकसान पहुंचाया है और सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिए हैं। एआरटीओ ने एसपी कुंवर अनुपम ¨सह से मुलाकात कर पूरे प्रकरण से अवगत कराया। एसपी ने जल्द से जल्द चारों को पकड़ने और बेहतर सुरक्षा देने की बात कही है। सूचना पर कोतवाली पुलिस ने कार्यालय का निरीक्षण किया। अब पुलिस के सामने बड़ी चुनौती है। देखना ये है कि पुलिस चोर कब तक पकड़ती है। चोरी की इस वारदात से लोगों में डर है।

Posted By: Jagran