जागरण संवाददाता, महोबा: जिलाधिकारी रामविशाल मिश्रा की अध्यक्षता में मिशन स्थापना समारोह 2017 के संबंध में बैठक का आयोजन विकास भवन में किया गया। इस अवसर पर मिशन के उद्देश्य और प्रचार प्रसार के संबंध में जानकारी दी गई।

बैठक में जिलाधिकारी ने बताया कि कौशल विकास मिशन का उद्देश्य जन सामान्य के मध्य कौशल विकास की महत्ता का व्यापक प्रचार प्रसार करना तथा मिशन की कार्यक्षमता और गुणवत्ता वृद्धि करने के साथ साथ समस्त महत्वपूर्ण सहभागियों को यह आभास कराना भी है कि वे मिशन के अपरिहार्य अंग हैं। हम समेकित रूप से मिशन के विकास की दशा निर्धारित कर सकते हैं। कौशल विकास मिशन द्वारा अधिक से अधिक बेरोजगार युवक एवं युवतियों को कौशल विकास मिशन के माध्यम से रोजगार एवं स्वरोजगार उपलब्ध कराया जा सके। इस उद्देश्य से व्यापक प्रचार प्रसार हेतु राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान महोबा से दिनांक 15.12.2017 समय 12 बजे जिलाधिकारी की उपस्थिति में एक रैली का आयोजन किया जाएगा। जिसमें कौशल विकास मिशन तथा जीआईटी महोबा / पॉलिटेक्निक के वर्तमान एवं भूतपूर्व प्रशिक्षार्थी प्रतिभाग करेंगे। महोबा जनपद में संचालित कौशल विकास मिशन केन्द्रों के प्रबंधकों को निर्देशित करते हुए कहा कि वे अपने निकटतम विभिन्न इटरकॉलेजों में विद्यार्थियों को कौशल विकास मिशन की महत्ता को बताते हुए एवं प्रशिक्षण केन्द्र पर उपस्थित पाठ्यक्रमों की जानकारी दें। इच्छुक छात्रों का पंजीकरण कराने के लिए प्रोत्साहित करें। जिससे बेरोजगारी की समस्या से निपटा जा सके।

बैठक में जिला विकास अधिकारी विनय कुमार तिवारी, जिला विद्यालय निरीक्षक विधि नारायण, डीसी एनआरएलएम बालगोविन्द शुक्ला, जिला समन्वयक राममूर्ति, एमआईएस मैनेजर कौशल विकास मिशन अरूणेन्द्र कुमार शुक्ला एवं समस्त केन्द्र प्रबंधक उपस्थिति रहे।

Edited By: Jagran