जागरण संवाददाता, महोबा : जिलाधिकारी सहदेव ने शहर के टूरिस्ट बंगला परिसर में पौधरोपण, गोवंश रखरखाव एवं पर्यावरण संतुलन बनाये रखने हेतु जानकारी देते हुए कहा कि पौधों का मानव जीवन में अति महत्व है, इसके साथ ही वृक्ष पर्यावरण संतुलन बनाये रखने में महती भूमिका अदा करते हैं, इसलिए लोगों को पौधारोपण में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेना चाहिए। शासन स्तर से भी जनपद में वृहत पौधरोपण अभियान के अन्तर्गत 14 लाख से ज्यादा पौधे लगवाये गये हैं, इस कार्य में जिले को टाप टेन जिलों में स्थान दिया गया है।

उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड का अति पिछड़ा जनपद होने के कारण जिले में स्वास्थ्य एवं शिक्षा के सीमित संसाधन हैं। कबरई नगर के पत्थर व्यापारियों को जिले के विकास को गति देने के लिए योगदान करना चाहिए। पूंजीपतियों के निवेश से शहर में आधुनिक सुविधाओं से लैस चिकित्सालय बनाया जा सकता है। चिकित्सा विभाग के अधिकारियों की लापरवाही की वजह से जिला अस्पताल सिर्फ रेफर केन्द्र बनकर रह गया है। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी हीरा ¨सह ने कहा कि पर्यावरण को शुद्ध रखने के लिए किसी भी क्षेत्र का 33 फीसद भूभाग वनाच्छादित होना चाहिए और कहा कि एक व्यक्ति को कम से कम 12 पौधे रोपित करते हुए उनकी सुरक्षा का संकल्प लेना चाहिए।

जिलाधिकारी ने सभी जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों, अधिवक्तागणों एवं किसान बन्धुओं से अपील करते हुए कहा कि इस समय पर्याप्त वर्षा हो रही है, जो वृक्षों की वृद्धि के लिए आवश्यक है, इसलिए मौसम का फायदा लेते हुए जनपद में वृहद पौधरोपण करने में सहयोग किया जाये। उन्होंने कहा कि शासन से अर्जुन सहायक परियोजना को पूर्ण करने के लिए 715 करोड़ का बजट प्राप्त हो गया है, जिससे अर्जुन सहायक परियोजना को जल्द ही पूर्ण कराने का प्रयास किया जाएगा। पालिका अध्यक्ष प्रतिनिधि सौरभ तिवारी, अधिवक्ता राम अवतार एवं टूरिस्ट बंगला के ऑनर रंजन ¨सह सहित अन्य अधिकारी, कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran