जागरण संवाददाता, महोबा : भारत बंद हो लेकर जनपद में मिला जुला असर रहा। कांग्रेस के आह्वान के बाद भी ज्यादातर दुकानें खुली रही। डीजल, पेट्रोल व गैस की बढ़ी कीमतों को लेकर जहां शहर कांग्रेस कमेटी ने जोरदार प्रदर्शन किया और बाजार बंद करवाया तो वहीं सपाईयों ने बढ़ी महंगाई को लेकर धरना दिया। दोनों ही दलों के लोगों ने केंद्र व प्रदेश सरकार पर जमकर तीर चलाए और महंगाई रोकने में सरकार को विफल बताया।

जिला कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष आफाक सरवर व प्रदेश सचिव निर्दोष दीक्षित के नेतृत्व में शहर के आल्हा चौक से जुलूस निकाला जो तहसील चौराहा, मुख्य बाजार सहित अन्य स्थानों से होते हुए निकला। प्रदेश सचिव निर्दोष दीक्षित व कुं राकेश ¨सह ने कहा कि भाजपा की सरकार महंगाई रोक पाने असफल साबित हो रही है। अच्छे दिनों के नाम पर वोट तो लिए गए पर अच्छे दिन भाजपा नहीं दे पाई। कानून व्यवस्था बदहाल होने के साथ ही बढ़ती महंगाई से आमजन कराह रहा है। अन्य वक्ताओं ने भी भाजपा पर जमकर तीर चलाए। इस दौरान भारत विशाल शुक्ला, पूर्व जिलाध्यक्ष त्रिलोक मोहन तिवारी, अजय बरसैया, मुकेश उपाध्याय सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस मौजूद रहे। उधर बढ़ती महंगाई को लेकर सपाईयों ने तहसील में जिलाध्यक्ष शोभालाल यादव, पूर्व मंत्री सिद्धगोपाल साहू के नेतृत्व में धरना प्रदर्शन किया। जिसमें सपाईयों ने कहा कि मौजूदा समय में देश में आपातकाल का माहौल पैदा हो गया है। संविधान पर हमला हो रहा है तो गरीब मजदूर पिछड़े अल्पसंख्यकों दलितों के साथ अन्याय और अत्याचार जोरों पर है। किसानों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। बहन बेटी दुष्कर्म का शिकार बन रही है। हत्याओं का ग्राफ बढ़ा है। सरकार इन सबको रोकने में विफल है। मीडिया की स्वतंत्र आवाज को कुचलने का प्रयास किया जा रहा है। नौजवानों का रोजगार छिन गया है। लाखों बेरोजगार दर-दर भटक रहे है। मांग की गई है कि ध्वस्त कानून व्यवस्था महिला उत्पीड़न बच्चियों का शोषण, अन्ना पशु समस्या, किसानों द्वारा की जा रही आत्महत्याओं में वृद्धि हो रही है। इस दौरान पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष अमित यादव ने भी धरना को संबोधित किया। संतोष साहू, विनोद यादव, शिवकुमार यादव, जितेंद्र यादव, शिवकुमार, धर्मेंद्र आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran