-यात्रा में झूमते गाते चलते रहे भक्त

जागरण संवाददाता, महोबा: श्रीकृष्ण जन्माष्टमी छठी पर्व पर रविवार को नवीन गल्ला मंडी स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर से भगवान कृष्ण की पालकी शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा से पूर्व मंदिर में भजन कीर्तन, पूजा पाठ का आयोजन किया गया था। जिसमें सैकड़ों भक्त शामिल हुए। शोभायात्रा समापन के बाद मंदिर में कथा का आयोजन किया गया।

रविवार को लक्ष्मी नारायण मंदिर में सुबह से ही पूजा अर्चना का क्रम जारी था। मंदिर में महिलाएं भजन गाकर भगवान की पालकी सजा रहीं थी। इसके बाद बाल गोपाल उत्सव यात्रा निकाली गई। उत्सव यात्रा में दिल्ली और झांसी से आए भक्त गो¨वद जय जय, गोपाल जय जय गाते हुए झूमते चल रहे थे। शोभायात्रा लक्ष्मी नारायण मंदिर से परमानंद चौराहा, आल्हा चौक, मुख्य बाजार, ऊदल चौक, नर¨सह कुटी होते हुए पुन: गल्लामंडी में संपन्न हुई। इसके बाद दिल्ली से आए जितामित्र दास ने संकीर्तन और श्रीमद् भागवत कथा का रसपान कराया। प्रवचन, संकीर्तन, पूजा अर्चना देर शाम तक चलती रही। केशवदास, श्रीवास, निरंजन और झांसी से आए करुणा ¨सधू ने बाल गोपाल नंदोत्सव में भागीदारी की। सुबह से देर शाम तक लक्ष्मी नारायण मंदिर में श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला जारी रहा। इसके बाद आठ बजे मंदिर में आरती के बाद प्रसाद वितरण कराया गया। इस दौरान सैकड़ों की संख्या में महिला पुरुष और बच्चे मौजूद रहे।

Posted By: Jagran