महराजगंज: जच्चा-बच्चा नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के बेहतर प्रबंधन एवं सुदृढ़ीकरण के लिए क्लिंटन हेल्थ एक्सेस इनिशिएटिव (सीएचएआइ) द्वारा केएमसी डिजिटल हास्पिटल में कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कार्यशाला का उद्घाटन करते हुए मुख्य अतिथि जिलाधिकारी डा. उज्ज्वल कुमार ने कहा कि बच्चों व माताओं को जानलेवा बीमारियों से बचाने के लिए टीकाकरण बहुत जरूरी है। स्वास्थ्य विभाग शत प्रतिशत टीकाकरण लक्ष्य प्राप्त करने के लिए सभी सहयोगी संस्थाओं के साथ मिलकर कार्य कर रहा है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अशोक कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि हमें टीकाकरण के लिए बेहतर कार्य योजना बनाने तथा हर माह समीक्षा करने की जरूरत है। क्लिंटन हेल्थ फाउंडेशन के राज्य प्रतिनिधि डा. सुमेंद्र बागची ने कहा कि टीकाकरण में आनेवाली दिक्कतें जन जागरूकता से ही दूर की जा सकती है। संस्था के तौहीद अहमद ने बताया कि नियमित टीकाकरण बढ़ाने के लिए जनपद में नौतनवा, परतावल, महराजगंज, पनियरा, निचलौल मिठौरा ब्लाक में विशेष अभियान चलाया जाएगा। कार्यशाला में डब्ल्यूएचओ के सर्विलांस मेडिकल आफिसर डा. विकास यादव, यूनिसेफ के डीएमसी अनिल तोमर, यूएनडीपी के कोल्ड चेन मैनेजर नागेंद्र पांडेय आदि उपस्थित रहे।

शरीर में पानी की न हो कमी, फलों का करें सेवन

महराजगंज: कोरोना महामारी में सेहत का सही ख्याल रखने पर वायरस नहीं जकड़ेगा। सावधानी तो बरतनी है ही। उसके साथ संतुलित आहार पर भी लोगों को ज्यादा ध्यान देना है। सबसे बड़ी बात है कि शरीर में पानी की कमी नहीं होने देनी है। हर रोज पांच से छह लीटर पानी पीना है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनकटी की चिकित्सक डा. नेहा द्विवेदी ने कहा कि कोरोना का संक्रमण खतरनाक है। सावधानियां बरतेंगे, तो हम स्वस्थ रहेंगे और दूसरों तक कोरोना वायरस को पहुंचने नहीं देंगे। सभी को एक बात का ख्याल रखना है कि शरीर में पानी की कमी नहीं होने देनी है। इसके लिए हमें हर रोज पांच से छह लीटर पानी पीना है। इसके अलावा भोजन में प्रोटीन युक्त पदार्थो को शामिल करना है, जिससे शरीर में रोगों से लड़ने की ताकत मिले। हरी सब्जियां, मौसमी फल और ऐसे फल जिसमें विटामिन सी मिले उनका सेवन करें। मास्क जरूर लगाएं और सरकार द्वारा जारी कोविड-19 गाइडलाइन का भी पालन करें।

Edited By: Jagran