महराजगंज: परसामलिक थाना क्षेत्र के महदेइया गांव में 18 नवंबर की देर रात मंदिर परिसर में हुई साधु रामरतन मिश्र व साध्वी कलावती की हत्या मामले में पुलिस ने जल्द ही पर्दाफाश का दावा किया है। पुलिस का दावा 25 नवंबर की देर रात रोहिन नदी के समीप नौतनवा थाना क्षेत्र के समय माता मंदिर की दान पेटी व अन्य सामानों की चोरी के आरोप में पकड़े गए एक चोर के पकड़े जाने के बाद पुख्ता हुआ है। अभी तक रकम लेनदेन व करीबियों की जांच में जुटी पुलिस ने अपनी जांच का दायरा रतनपुर मंदिर में पकड़े गए चोर के इर्द-गिर्द कर दिया है। बैराज स्थल के पास के मंदिर से नहर विभाग के मेठ शिवपूजन गिरी ने चोर को पकड़ा और उसकी शिनाख्त की थी। यह है तहरीर का मामला

25 नवंबर को रतनपुर रोहिन बैराज स्थल के पास एक मंदिर में चोरी के आरोप में एक चोर पकड़ा गया। जो पास के ही एक गांव का निवासी है। नौतनवा पुलिस उसे पकड़ थाने ले गई। मामले की पहली तहरीर व दूसरी तहरीर में पकड़े गए चोर पर यह कहने की बात कही गई कि जैसे महदेइया के कारड माता मंदिर में साधू व साध्वी की हत्या हुई वैसे ही मार दिए जाओगे। लेकिन तीसरी तहरीर रविवार की शाम रतनपुर में पुलिस जांच टीम के समक्ष नहर विभाग के मेठ से लिखवाई गई। उसमें इस बात का जिक्र किया गया कि चोर ने यह कहा कि चोरी का विरोध करने पर जिस प्रकार साधु व साध्वी को हमने ही मारा है। उसी तरह मार दिए जाओगे। तीसरी तहरीर में लिखी गई यह बात क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी है। नहर विभाग के मेठ के स्वजन ने पुलिस के तीसरी बार तहरीर लेने व पुलिस विभाग द्वारा बोल कर तहरीर लिखवाने की प्रकिया पर आपत्ति जताई है। उनका आरोप है कि हत्या मामले के वास्तविक खुलासे के बजाए पुलिस अपना दामन बचाने के लिए फर्जी खुलासे की तरफ बढ़ रही है। हालांकि पुलिस का दावा है कि दोहरे हत्याकांड का खुलासा जल्द हो जाएगा। पुलिस हत्यारों के काफी करीब पहुंच चुकी है। महदेइया में हुआ दोहरा हत्याकांड का पर्दाफाश पुलिस की प्राथमिकता है। रतनपुर में पकड़े गए चोर से अहम सुराग मिले हैं। पुलिस हर बिदु को बारीकी के जांच कर रही है। चोरी मामले की तहरीर वादी के बयान अनुसार है। जांच जारी है। पूरा खुलासा साक्ष्य व तथ्यों के आधार पर होगा।

कोमल प्रसाद मिश्र, सीओ, नौतनवा

Edited By: Jagran