जागरण संवाददाता, महराजगंज: जिले में कोरोना की त्रासदी झेलने के बाद शासन-प्रशासन आक्सीजन को लेकर काफी सजग हो गया है। कोविड हास्पिटल में आक्सीजन मशीन लगाने के बाद अब जनपद की छह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को भी आक्सीजन मशीन की सुविधा से लैस किया जाएगा। इन केंद्रों पर आक्सीजन प्लांट लगने से ग्रामीण क्षेत्रों के मरीजों को भी आक्सीजन किल्लत की समस्या से निजात मिल सकेगा।

कोरोना की तीसरी लहर को लेकर स्वास्थ्य विभाग तैयारी में जुटा है। कोविड हास्पिटल एल-टू जिला महिला अस्पताल में आक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं, जिसे दो दिनों में चालू होने की उम्मीद है। अब सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र घुघली, गोपाला, परतावल, फरेंदा, धानी व नौतनवा को आक्सीजन की सुविधा उपलब्ध कराने की कवायद तेज हो गई है। कोविड हास्पिटल के रूप सीएचसी घुघली, गोपाला में आक्सीजन प्लांट लगाए जाएंगे। जबकि कोविड हास्पिटल नौतनवा और धानी में पाइप लाइन से बेडों तक आक्सीजन पहुंचाई जाएगी। इसके अलावा सामान्य श्रेणी की सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परतावल व फरेंदा में विधायक निधि से आक्सीजन प्लांट लगाई जाएगी। प्रत्येक अस्पताल में 50-50 बेड की व्यवस्था की गई है। ताकि भविष्य में आक्सीजन की दिक्कत न हो और आक्सीजन के अभाव में किसी मरीज की जान न जाए।

इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एके श्रीवास्तव ने बताया कि जिले के छह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को आक्सीजन मशीन की सुविधा से लैस करने की प्रक्रिया चल रही है। इसमें तीन सीएचसी को मशीन उपलब्ध कराने के लिए टेंडर भी हो गया है। शीघ्र ही चिन्हित स्वास्थ्य केंद्रों पर आक्सीजन के लिए व्यवस्था कर ली जाएगी।

Edited By: Jagran