महराजगंज: पारिवारिक कलह से जिद में आकर कोल्हुई थाना क्षेत्र के मोगलहा रेलवे ट्रैक पर आत्महत्या करने की नियत से पहुंची महिला की पुलिस की तत्परता से जान बच गई। पुलिस ने महिला को समझा-बुझाकर उसके स्वजन को सौंप दिया है।

शनिवार को चैनपुर निवासी अनीता के घर में पारिवारिक विवाद में मामला बढ़ गया। विवाद बढ़ने के बाद आक्रोशित हुई अनीता घर से आत्महत्या करने की धमकी देकर रेलवे ट्रैक की तरफ चली गई। महिला का पति इसकी सूचना तत्काल पुलिस को देते हुए महिला के पीछे ही दौड़ पड़ा। सूचना मिलते ही पीआरवी पुलिस के उपनिरीक्षक प्रमोद दुबे मौके पर पहुंच गए। महिला ट्रैक पर लेटी हुई थी। काफी मशक्कत के बाद महिला को समझा-बुझाकर शांत किया। उपनिरीक्षक प्रमोद कुमार दुबे ने बताया कि महिला को समझा-बुझाकर उसके स्वजन को सौंप दिया गया है। इस दौरान आरक्षी संतोष कुमार चौहान व रामवृक्ष मौजूद रहे।

पुलिस ने बरामद किया बच्चा, पूछताछ के बाद आरोपित को छोड़ा

महराजगंज: नौतनवा थाना क्षेत्र के नगर पालिका में शनिवार की देर शाम चौकाने वाला मामला प्रकाश में आया है। जहां आठ वर्षीय एक बालक चार माह के बच्चे को उठाकर भाग निकला। लेकिन पुलिस ने सतर्कता दिखाते हुए दो घंटे में दोनों की बरामदगी कर ली। नगर पालिका गौतमबुद्ध नगर वार्ड निवासी कुसुम गिरी ने पुलिस को बताया कि उनका खाट पर बच्चा तीन-चार बच्चों के साथ था। थोड़ी देर में पड़ोस के एक व्यक्ति ने बताया कि उसके बेटे को नहर रोड से कोई लेकर जा रहा है। यह सुनते ही लोगों की भीड़ जुट गई। वह रोते बिलखते बच्चे को खोजने के लिए कुछ लोगों के साथ दौड़ते हुए निकली। भीड़ व शोर को सुनकर गश्त के दौरान नौतनवा थानेदार ने मामले की जानकारी ली। इंस्पेक्टर राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि काफी तलाश के बाद छपवा बाईपास के पास चोरी गए बच्चे को बरामद कर लिया गया है। बच्चा चुराने वाला आठ वर्षीय बालक भी थाना क्षेत्र के ही बरवाभोज गांव का ही निवासी है। पूछताछ के बाद आरोपित को उसके स्वजन को सौंप दिया गया है। उसने बच्चे को क्यों चुराया, इसकी जांच की जाएगी।

Edited By: Jagran