महराजगंज:मच्छरों से फैलने वाले संक्रामक रोगों पर निजात पाने के लिए प्रदेश सरकार की ओर से गांवों में एंटी लार्वा दवा का छिड़काव कराए जाने की योजना स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही की वजह से परवान नहीं चढ़ पा रही है। योजना के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग की ओर से ग्राम प्रधानों को दवाई उपलब्ध कराने के लिए बीडीओ व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से जानकारी देने का प्रावधान है।

ग्रामीणों को संक्रामक रोगों के प्रकोप से बचाने के लिए जानकारी मिलने के बाद ग्राम प्रधानों को निकटवर्ती सीएचसी से दवा ले जाकर गांवों में छिड़काव करवाना है, परंतु ब्लाक कर्मियों, प्रधानों व स्वास्थ्य विभाग की उदासीनता ने इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इसके चलते सिसवा,मिठौरा सहित निचलौल के लगभग दो दर्जन भर गांव में मच्छरों के प्रकोप से बचने वाली दवा का छिड़काव नहीं हो सका है। सिसवा विकास खंड क्षेत्र के करीब दर्जन भर से अधिक गांवों में हर साल संक्रामक रोगों के फैलने से दर्जनों लोग मुसीबत झेलते हैं। ऐसे में शासन की ओर से ग्रामीणों को मच्छरों से निजात दिलाने की योजना का पालन न होने से क्षेत्र के ग्रामीण अंचलों में मच्छरों ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। क्षेत्रीय ग्रामीण रावत, दुर्गेश, जयदेव तिवारी, उग्रसेन, अमित कुमार, अतुल, राहुल, राकेश, राजेश चौधरी आदि लोगों ने नियमित दवा छिड़काव की मांग की है।

Posted By: Jagran