महराजगंज : अखिल भारतीय ¨हदू ब्राह्मण सभा की बुधवार को कृष्ण मुरारी तिवारी की अध्यक्षता में हुई बैठक में संगठन की मजबूती का मुद्दा छाया रहा। वक्ताओं ने सदस्यता अभियान चला कर अधिकाधिक सदस्यों को संगठन से जोड़े जाने का प्रस्ताव रखा, जिसे ध्वनिमत से पास कर दिया।

कार्यक्रम का शुभारंभ सदस्यों ने भगवान परशुराम के चित्र पर माल्यार्पण कर किया और ब्राह्मण समाज की रक्षा का संकल्प दोहराया और एक जुट होने पर जोर दिया।

जिलाध्यक्ष प्रमोद मिश्र ने कहा कि ब्राह्मण समाज के लोगों ने सदियों से पूरे समाज की रक्षा की और भेदभाव से ऊपर उठ कर कार्य किया। इतिहास गवाह है कि ब्राह्मणों को कभी भी पद व सत्ता का लोभ नहीं रहा। ब्राह्मणों ने देश की रक्षा के लिए हमेशा तत्पर रहे और आगे भी रहेंगे पर ब्राह्मण समाज का उत्पीड़न अब और बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए ब्राह्मण सभा का गठन किया गया है।

कृष्ण मुरारी तिवारी ने कहा कि ब्राह्मणों के एक जुट न होने का लाभ अन्य जातियों के लोगों के साथ राजनीतिक दलों के लोग उठा रहे हैं। समय की मांग है कि सभी ब्राह्मण एक जुट होकर अपने अधिकार की रक्षा के लिए आगे बढ़े। एक जुट होकर संघर्ष करने से हक व अधिकार की रक्षा होगी और कोई भी राजनीतिक दल ब्राह्मण समाज का नुकसान करने का साहस नहीं जुटा सकेगा।

इस अवसर पर गौतम तिवारी, आशुतोष शुक्ल, राकेश पांडेय, स¨चद्रनाथ द्विवेदी, राकेश मिश्र, राम सहाय तिवारी, राजीव शुक्ल, बलराम दुबे, पं. घनश्याम उपाध्याय, भीष्म नारायण तिवारी आदि ने विचार व्यक्त किया।

Posted By: Jagran