महराजगंज, जागरण संवाददाता। महराजगंज जिले के श्यामदेउरवा थाना क्षेत्र के बसहियां खुर्द में गोरखपुर की तरफ से परतावल आ रही तेज रफ्तार मारुति कार की चपेट में आने से दो चचेरी बहनों की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद परिवार के साथ ही पूरे गांव में कोहराम मच गया। घरवालों की चीख-पुकार सुनकर ग्रामीणों की भारी भीड़ जुट गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची श्यामदेउरवा पुलिस दोनों को सीएचसी परतावल ले गए। जहां अधीक्षक डॉ. राजेश द्विवेदी ने मृत घोषित कर दिया।

यह है मामला

धीरेंद्र जायसवाल की पुत्री अंशिका (नौ वर्ष) व राम सनेही जायसवाल की पुत्री शालू (12 वर्ष) दोनों चचेरी बहन थीं। वह गोरखपुर परतावल मार्ग पर स्थित ग्राहक सेवा केंद्र से पैसा निकालने के लिए आई थीं। दोनों बहनें सड़क के किनारे पटरी के नीचे खड़ी थीं। तभी गोरखपुर की तरफ से आ रही मारूति स्वीफ्ट कार ने दोनों बच्चियों को रौंद दिया।

नशे में धुत था चालक

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार कार चालक नशे में था। बसहियां खुर्द के पास सड़क के किनारे बनी नाली के उस पार जाकर दिवार से टकराया फिर खड़ी स्कूटी में टक्कर मारी उसके बाद दोनों चचेरी बहनों को रौंदते हुए डिवाइडर से टकराकर रुक गया। घटना में सदर कोतवाली के हथियागढ़ भिटौली निवासी चालक विजय चौधरी भी गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसे मेडिकल कॉलेज गोरखपुर रेफर कर दिया गया।

दो बहनों की मौत से परिवार में छाया मातम

चचेरी बहनों की मौत से परिवार में मातम छाया है। घरवालों की चीख-पुकार सुनकर लोगों का कलेजा फटा जा रहा है। वहीं दोनों की माताएं बिलखते हुए अपने आप को कोस रही हैं कि बच्चियों को जाने ही क्यों दिया।

क्या कहती है पुलिस

थाना प्रभारी (SHO) श्यामदेउरवा आनंद कुमार गुप्ता ने कहा कि ‌घटना की सूचना पर पुलिस दुर्घटना स्थल पर पहुंचने के साथ ही आवश्यक कार्यवाही की है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। विधिक कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट