महराजगंज: जनपद में सड़क निर्माण में अनियमितता का खेल देखना हो तो बेलौही-ललाइन पैसिया वाया सोनवल मार्ग पर आइए। लाखों की लागत से निर्मित सड़क पहली बरसात भी नहीं झेल पाई और 10 माह में ही सड़क जगह-जगह टूट गई है। यहां तक कि उसकी गिट्टियां बिखरने लगीं हैं । जिससे इस सड़क के गुणवत्ता पर सवाल उठने लगे हैं। लोगों को लक्ष्मीपुर जाने में कम दूरी तय करनी पड़े , इस उद्देश्य से सरकार द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत तीन करोड़ चौबीस लाख की लागत से साढ़े पांच किमी सड़क का निर्माण वर्ष 2017 में शुरू किया गया। इस सड़क के निर्माण का जिम्मा ग्रामीण अभियंत्रण सेवा विभाग ने कार्यदायी संस्था पालीवाल ब्रदर्स को सौंपा। यह सड़क जून माह 2018 में बन कर तैयार भी हो गई। सड़क बेलौही से ललायन पैसिया तक वाया सोनवल व बेलवा बुजुर्ग बनाई गई। जिससे स्थानीय लोगों को लगा कि अब उन्हें लक्ष्मीपुर,रानीपुर व समरधीरा आदि जगहों पर जाने में कम दूरी की यात्रा करनी पड़ेगी। जिससे उनके पैसे के साथ समय की भी बचत होगी। लेकिन यह सड़क भ्रष्?टाचार की भेंट चढ़ गई। अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग महराजगंज सुग्रीव राव ने बताया कि उन्हें मामले की जानकारी नहीं है , लेकिन इसकी जांच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप