महराजगंज: अब गरीबों के लिए सरकारी अस्पतालों में गंभीर बीमारियों का इलाज कराना आसान हो गया है। नई पहल से उन्हें बड़े अस्पतालों का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत गंभीर बीमारियों का इलाज अब सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर संभव हो सकेगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों का चयन किया गया है। जिसके तहत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बृजमनगंज को भी नामित किया गया है । जिसमें सर्वे का काम भी पिछले सप्ताह पूरा हो चुका है। इसके अंतर्गत ओपीडी के समय स्वास्थ्य केन्द्र पर आने वाले मरीज अपना रजिस्ट्रेशन करा कर डॉक्टर के कमरे में जाएगा। वहा सामान्य मरीज तो देख लिए जाएंगे , लेकिन अन्य बीमारियों या विशिष्ट रोगी को टेली मेडिसिन के कमरे में भेज दी जाएगी। जहां पर मौजूद स्वास्थ्य कर्मी मरीज को रोग विशेषज्ञ से कॉन्फ्रेंसिग के जरिए बात कराएगा। फिर उसके निर्देशानुसार उसकी जांच कर उसे दवा मुहैया कराई जाएगी। इसके लिए केंद्र पर एक कमरे को हाईटेक किए जाने का प्रस्ताव है, जो कि डिजिटल जांच मशीनों से लैश होगा। इसके लिए मिशन निदेशक लखनऊ के कार्यालय द्वारा सेवा प्रदाता के लिए निविदा-प्रक्रिया भी पूर्ण कर ली गई है। इस कार्य में सहयोग के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को मिशन निदेशक द्वारा पत्र भी जारी कर दिया गया है।

Posted By: Jagran