देवरिया: देवी मंदिरों व पंडालों में दुर्गा पूजा को लेकर गुरुवार को श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। शहर से लेकर ग्रामीण अंचलों में दुर्गा पूजा के दौरान माहौल भक्तिमय हो गया है। नवरात्र के अंतिम दिन अधिकांश लोगों ने कन्या पूजन कर भोजन कराया और उन्हें वस्त्र आदि दान कर आशीर्वाद लिया। अंतिम दिन देवी मंदिरों में भी पूजन अर्चन को लेकर सर्वाधिक भीड़ रही। सुरक्षा को लेकर शहर से ग्रामीण अंचलों तक पुलिस मुस्तैद रही।

शहर में स्थापित पंडालों में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। शहर के नगर पालिका रोड पर स्वर्णकार समाज समिति, हिदू सम्राट दल, मालवीय रोड पर एकता क्लब, कसया रोड पर जय श्रीराम दल, छह मुखी चौराहा पर गूंगा बहरा क्लब, पोस्टमार्टम चौराहा पर हर-हर महादेव क्लब, कस्तूरबा रोड में आजाद क्लब, मोतीलाल रोड में हिदुस्तान क्लब, हनुमान मंदिर रोड में रेड इगल क्लब के संयोजन में पंडाल सजा कर देवी मां की प्रतिमा रखी गई है। इसके अलावा मालवीय रोड सिविल लाइंस रोड, सब्जी मंडी रोड, गोरखपुर रोड के अलावा राघव नगर न्यू कालोनी सब्जी मंडी समेत विभिन्न स्थानों पर मां दुर्गा की सुंदर प्रतिमाएं रखी गई है। यहां दो दिन से पूजन अर्चन के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। रात में सर्वाधिक भीड़ हो रही है। उधर सुरक्षा को लेकर पुलिस दिन रात की की हुई है। नौ दिन का व्रत रखने वाले लोगों ने घरों में लोग हवन करने के बाद कन्या पूजा कर भोजन कराया और उनका आशीर्वाद लिया। नवरात्र अंतिम दिन होने के कारण शहर के देवरही मंदिर, राघवनगर स्थित दुर्गा मंदिर के अलावा अहिल्यापुर देवी मंदिर, लाहिलपार दुर्गा मंदिर, भगड़ा भवानी मंदिर में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे और मां दुर्गा की पूजा कर नारियल व चुनरी चढ़ाई। देवी के जयकारों से भक्तिमय हुआ पंडाल

खुखुंदू, गुरुवार को नवमी के दिन प्रतिमाओं के विधिवत पूजन अर्चन के साथ पट खुल गए। माता रानी के जयकारों के साथ वातावरण भक्तिमय हो गया। मुख्य मार्ग पर त्रिमूर्ति क्लब द्वारा स्थापित की गई प्रतिमा काफी लुभावनी रही। खुखुंदू,मुसैला, महुई श्रीकांत, बड़हरा, मुंडेरा बुजुर्ग, परसिया, सिसई, बैदौली मे भी देवी की प्रतिमा आकर्षक ढंग से सजाई गई।

Edited By: Jagran