महराजगंज, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण के चलते दो वर्ष तक नवरात्र पर कोई विशेष आयोजन नहीं हुआ। इस वर्ष शारदीय नवरात्र को लेकर लोगों में हर्ष का माहौल है। जिले में इस बार दुर्गा पूजा और दशहरा को लेकर भी लोगों में काफी उत्साह है। जिले में दुर्गा पूजा को लेकर 1074 स्थानों पर दुर्गा प्रतिमाओं की स्थापना हुई है। जबकि 20 स्थानों पर रामलीला कार्यक्रम का मंचन किया जा रहा है। कार्यक्रम की भव्यता और सुरक्षा को लेकर पुलिस विभाग ने प्रत्येक प्रतिमा के लिए एक-एक नोडल अफसरों की भी तैनाती की है।

ये है आयोजन

  • जिले में कुल स्थापित प्रतिमाएं - 1074
  • प्रतिमाओं के पट खुलेंगे - दो अक्टूबर
  • श्रद्धालुओं द्वारा हवन-पूजन - चार सितंबर
  • मूर्तियों का विसर्जन - पांच और छह सितंबर

पंडालों के लिए प्रशासन ने जारी की है गाइडलाइन

जिले में दुर्गा पूजा और दशहरा में पूजा पंडालाें के लिए जिला प्रशासन ने बाकायदा गाइडलाइन जारी की है। इसके तहत पंडाल में संचालन के लिए बिजली की व्यवस्था हेतु अस्थाई कनेक्शन लेने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही बिजली सुरक्षा को लेकर निर्देश हैं। कि कहीं भी तार खुले में न हों, अग्निशमन यंत्र और बालू से भरी बोरी हो, समिति के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, मंत्री का नाम लिखा हो, सुरक्षा के लिए समिति का कोई न कोई सदस्य हमेशा मौजूद रहे। इसके अलावा इस बार सार्वजनिक स्थलों जैसे सड़क, बाजार आदि के स्थानों पर पंडाल निर्माण पर रोक लगाई गई थी।

 

दशहरा को लेकर जिले में थोक में आने लगे नारियल के खेप 

दशहरा को लेकर बेकर्स और फल कारोबारियों ने पहले से ही नारियल की खेप मंगा ली है। महराजगंज में दिनेश कुमार, अवधेश और निचलौल के छोटू बेकर्स के छोटू ने बताया कि इस बार नारियल का बाजार काफी गर्म है। हम सभी महेवा मंडी गोरखपुर से 2500 से तीन हजार रुपये में थोक में नारियल उठाते हैं। एक कट्टे में 100 पीस नारियल होता है। जो 32 से 40 रुपये तक बिकता है। इस बार नवरात्र पर इसके दाम में और भी उछाल आने की संभावना है।  

रोहिन, नारायणी समेत प्रमुख नदियों पर होता है प्रतिमाओं का विसर्जन

जिले के चार तहसीलों में नौतनवा, फरेंदा, निचलौल और सदर क्षेत्र में स्थापित दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन जिले की प्रमुख नदियों में होता है। इसमें बड़ी गंडक नारायणी, रोहिन, प्यास, चंदन और अन्य जलाशयों में भी दो दिनों तक प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाएगा।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम

पुलिस अधीक्षक डॉ. कौस्तुभ ने बताया कि पुलिस विभाग ने दुर्गा पूजा और महोत्सव को लेकर विशेष इंतजाम किए गए हैं। इसके लिए प्रत्येक प्रतिमाओं पर एक-एक पुलिसकर्मियों को नोडल बनाया गया है। इसके अलावा सभी क्षेत्रों में दुर्गा पूजा और विसर्जन तक सतर्क दृष्टि रखी जा रही है।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट