महराजगंज: माता- पिता के अरमानों को पंख लगाने घर से कमाने निकले योगेन्द्र को चंडीगढ़ गए अभी चंद रोज ही हुए थे कि अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई और पंजाब के एक अस्पताल में उसकी मौत हो गई। उसके साथी शव लेकर बुधवार को जब उसके घर पहुंचे तो कोहराम मच गया और गांव में मातम का माहौल छा गया। ग्रामसभा घुघली बुजुर्ग निवासी रामअवध गौड़ का 24 वर्षीय पुत्र योगेन्द्र अपने साथियों के साथ चंडीगढ़ गया था। सोमवार की रात उसकी तबीयत अचानक बिगड़ गई। साथियों ने उसके घर सूचना देते हुए एम्बुलेंस से योगेन्द्र का शव लेकर बुधवार को उसके घर पहुंचे तो कोहराम मच गया । परिजनों की चीख पुकार से पूरे गांव में मातम का माहौल छा गया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस