महराजगंज: कोरोना का प्रभाव धीरे-धीरे कम हो रहा है, लेकिन यह खत्म नहीं हुआ है। आमजन इसे लेकर लापरवाही न बरतें। मास्क और शारीरिक दूरी का पालन करते रहें। भीड़ वाले स्थान से जाने से परहेज करें। अगर बुखार, खांसी के लक्षण दिखाई दे तो चिकित्सक से संपर्क कर जांच कराएं और इलाज कराएं। लापरवाही घातक हो सकती है।

यह कहना है सरोजनीनगर निवासी डा. एसके वर्मा का। उन्होंने कहा कि अगर पहले से ही सावधानी बरती जाए, तो कोरोना नजदीक नहीं आएगा। वर्तमान में अनियमित दिनचर्या और असंतुलित आहार के कारण लोगों का शरीर कमजोर हो रहा है और रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी आ रही है। इसे बढ़ाने का प्रयास करना चाहिए। अगर रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होगी तो मनुष्य का शरीर किसी भी बीमारी से निपटने में सफल रहेगा। इसलिए प्रतिदिन सुबह 30 मिनट व्यायाम जरूर करें। शरीर और मन को स्वस्थ बनाएं रखें। ठंडी चीजों से परहेज करें। काढ़ा पीएं। गर्म पानी का सेवन करें। मौसमी फल व हरी सब्जियों के साथ खट्टे फलों अंगूर, संतरा, कीवी, नीबू आदि को सेवन करें।

--

कोरोना के प्रति केंद्र व प्रदेश सरकार संवेदनशील: विधायक

भिटौली: वैश्विक महामारी को लेकर केंद्र व प्रदेश सरकार संवेदनशील है।

यह बातें सदर विधायक जयमंगल कन्नौजिया ने सदर विकास खंड के रामपुर बुजुर्ग में शुक्रवार को मेरा गांव कोरोनामुक्त गांव कार्यक्रम में टीकाकरण कैंप काउद्घाटन करने के बाद कही। विधायक ने कहा कि इस महामारी से जहां दुनिया संघर्ष कर रही है, वही केंद्र व प्रदेश सरकार के नेतृत्व में 130 करोड़ की जनसंख्या वाले देश ने कोरोना का सफलता पूर्वक मुकाबला किया है।

मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल ने कहा कि सभी लोग टीका लगवाए। गांव के लोग प्रयास करें कि कोई छूटने न पाए। मंडल अध्यक्ष अरविद मौर्य, सेक्टर प्रमुख गिरीश चंद्र पटेल ,पूर्व प्रधान अशोक पटेल, वीरेंद्र लोहिया, संजीव शुक्ल आदि मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप