महराजगंज: तकनीक के इस युग में लगभग हर व्यक्ति कंप्यूटर व मोबाइल से जुड़ा हुआ है। ऐसे में साइबर अपराधी भी अपराध करने के नए-नए तरीके अपना रहे हैं। इसमें जरा सी असावधानी पर हम साइबर अपराध और ठगी के शिकार हो जाते हैं। हमें इनसे बचने के लिए सतर्क रहना होगा। यह बातें पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता ने शुक्रवार को पनियरा थाना क्षेत्र के सौरहां प्राथमिक विद्यालय पर आयोजित चौपाल को संबोधित करते हुए कही। इस दौरान आए कुल पांच मामलों के निस्तारण के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि इंटरनेट मीडिया के माध्यम फेसबुक और ट्विटर से लेकर गूगल तक ये साइबर अपराधी फेक कस्टमर केयर नंबर डालकर जाल बिछाते हैं। किसी भी व्यक्ति द्वारा की गई जरा सी गलती पर वह साइबर अपराधियों के जाल में फंस जाता है। साइबर अपराधी किसी बैंक, कंपनी या संस्था की वेबसाइट से मिलती जुलती वेबसाइट बनाने से लेकर सोशल साइटों व गूगल मैप आदि पर गलत नंबर डालकर देते हैं। जिस कारण लोग असल और फेक वेबसाइटों में अंतर नही पहचान पाते और साइबर ठगी का शिकार हो जाते हैं। साइबर सेल प्रभारी मनोज कुमार पंत ने बताया कि हम जरा सी सावधानी बरत कर साइबर अपराध से बच सकते हैं। चौपाल में ग्राम प्रधान विदेश्वर ने महिला प्रशिक्षण केंद्र पर अतिक्रमण की शिकायत दर्ज कराई जिसपर त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस अधीक्षक ने अतिक्रमण हटाए जाने का निर्देश दिया। सीओ सदर अजय सिंह चौहान, थाना प्रभारी संजय कुमार मिश्रा, उप निरीक्षक गिरीश चंद्र राय, श्रवण गुप्ता, सूर्यमन निषाद, शेषमणि चौहान, परशुराम यादव, रामसुभग सहानी, दिलीप गुप्ता, रमेश यादव, विनय कुमार विट्टू, पन्नेलाल निषाद, विनोद तिवारी, जुगुल तिवारी आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran