महराजगंज: जिले के विभिन्न थाना परिसरों में शनिवार को आयोजित थाना समाधान दिवस में कुल 113 मामले पंजीकृत किए गए। इनमें से 18 का मौके पर निस्तारण कर दिया गया। कोठीभार में दो मामले के निस्तारण में लेखपालों की शिथिलता सामने आने पर डीएम अमरनाथ उपाध्याय ने एसडीएम को निर्देशित किया कि वे दोनों लेखपाल को प्रतिकूल प्रविष्टि दें। कोठीभार थाना परिसर में जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय व पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह सजवान के नेतृत्व में आयोजित थाना समाधान दिवस में कुल 12 मामले आए , जिसमें से एक का मौके पर निस्तारण कर दिया गया। बलहीखोर निवासी शाहिद द्वारा रास्ते के मामले में समाधान में रुचि न लेने वाले लेखपाल रामजीत तथा गौरा की रहने वाली आयशा द्वारा चकरोड काट खेत में मिलाने के मामले में लापरवाही दिखाने वाले लेखपाल सीताराम को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के लिए एसडीएम को निर्देशित किया। थाने के निरीक्षण के दौरान उन्होंने परिसर में साफ-सफाई रखने तथा वाहनों को नीलाम कराने की कार्यवाही करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि राजस्व व पुलिस विभाग के कर्मी भूमि विवाद के मामले को गंभीरता से लें तथा उनका त्वरित निस्तारण कराएं। इस दौरान अपर पुलिस अधीक्षक आशुतोष शुक्ल ,थानाध्यक्ष कोठीभार सर्वेश कुमार सिंह आदि मौजूद रहे। सदर कोतवाली परिसर में एसडीएम सत्यम मिश्रा की अध्यक्षता में आयोजित 14 में से पांच मामले का निस्तारण हुआ, शेष के निस्तारण के लिए राजस्व व पुलिस टीम को निर्देशित किया गया। इस दौरान सीओ देवेंद्र कुमार, प्रभारी निरीक्षक आरडी मौर्य आदि मौजूद रहे। इसके अतिरिक्त जिले के अन्य थाना परिसर में आयोजित समाधान दिवस में कुल 87 मामले आए जिसमें 12 का निस्तारण किया गया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस