महराजगंज: शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) रविवार को 23 केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा के बीच दो पालियों में हुई। सर्विलांस सीसी कैमरे की निगरानी में परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। दोनों पालियों में 1523 अभ्यर्थियों ने परीक्षाएं छोड़ दी। जिलाधिकारी सत्येन्द्र कुमार व पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता ने परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था लगी रही। जिला विद्यालय निरीक्षक अशोक कुमार सिंह ने बताया कि दोनों पाली की परीक्षा में 17718 अभ्यर्थी परीक्षा के लिए पंजीकृत थे। जिसमें से प्रथम पाली में पंजीकृत 10914 के सापेक्ष 9997 अभ्यर्थी उपस्थित रहे। इसी प्रकार दूसरी पाली में पंजीकृत 6804 के सापेक्ष 6198 अभ्यर्थी उपस्थित रहे। इस तरह से दोनों पालियों में 1523 अभ्यर्थियों ने परीक्षा छोड़ दी। उन्होंने बताया कि जिले में कही पर भी किसी भी प्रकार की घटना व कार्रवाई की सूचना नहीं है। गेट पर हुई सघन तलाशी

महराजगंज: सभी परीक्षा केंद्रों पर सघन तलाशी ली गई। इसमें महिला कर्मचारी, महिला आरक्षियों द्वारा महिला अभ्यर्थियों की तलाशी ली गई। अभ्यर्थियों के मोबाइल एवं अन्य सामाग्री केंद्र के बाहर रखवाने की व्यवस्था केंद्र व्यवस्थापकों ने कराई थी। चार जोन व 11 सेक्टर में बंटे थे परीक्षा केंद्र

महराजगंज: सभी 23 परीक्षा केंद्रों को चार जोन व 11 सेक्टर में बांटा गया था। प्रत्येक जोन में एक-एक एसडीएम जोनल मजिस्ट्रेट के रूप में तैनात किए गए थे। वहीं सीडीओ एडीएम के नेतृत्व में दो सुपर जोनल अधिकारी की टीम बनी थी। इसके अलावा डायट प्राचार्य, बीएसए व डीआईओएस के नेतृत्व में तीन सचल दल बना है। पूरे दिन प्रभावी रहा रूट डायवर्जन

यातायात निरीक्षक जेपी सिंह ने बताया कि रविवार की टीईटी के चलते नगर की यातायात व्यवस्था के दृष्टिगत भारी वाहनों का नगर में प्रवेश सुबह साढे सात बजे से शाम छह बजे तक प्रतिबंधित किया गया था। परीक्षा के दौरान रविवार की सुबह साढे सात बजे से पकड़ी चौराहा, सिदुरिया चौराहा, शिकारपुर चौराहा से बड़े वाहनों को डायवर्ट किया गया। 1210 परीक्षार्थियों को रोडवेज ने कराई मुफ्त यात्रा

महराजगंज: टीईटी परीक्षार्थियों गंतव्य तक पहुंचाने में जहां परिवहन निगम की बसें जोरशोर से जुटी रहीं, वहीं इस मुफ्त यात्रा की सुविधा से परीक्षार्थियों ने राहत महसूस किया और सरकार की पहल पर खुशी जाहिर की। इस दौरान करीब 1210 परीक्षार्थियों ने निश्शुल्क यात्रा की। जिले के 23 परीक्षा केंद्रों पर 16195 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए। परीक्षा में प्रतिभाग करने के लिए शासन ने परिवहन की निश्शुल्क सुविधा उपलब्ध कराने का फरमान जारी किया था और प्रवेश पत्र को ही टिकट के रूप मान्य किया था। जिसके क्रम में महराजगंज बस डिपो से निचलौल, ठूठीबारी व गोरखपुर के लिए 40 बसे लगाई गई थी। इसके अलावा चौक में तीन और फरेंदा में चार बसें खड़ी की थी। जो दोनों पालियों के परीक्षार्थियों को ढोने में जुटी रहीं। परीक्षार्थियों की चहल-पहल से बस स्टेशन पर काफी रौनक रही। एआरएम महेंद्र पांडेय भी सुबह से ही अपनी टीम के साथ मौजूद रहे। कई बसों में स्वयं परीक्षार्थियों के प्रवेश पत्र की जांच की और यात्रा व निगम की सुविधा के बारे में पूछताछ की। उन्होंने बताया कि अभी करीब 1210 परीक्षार्थियों ने निशुल्क यात्रा की है।

Edited By: Jagran