महराजगंज:

महराजगंज के खाते में एक और उपलब्धि दर्ज हुई है। जिले के ग्राम सोहरौना राजा गांव निवासी और दिल्ली विश्वविद्यालय के सीनियर असिस्टेंट प्रोफेसर डा. बलराम शुक्ल को राष्ट्रपति डा.प्रणव मुखर्जी ने संस्कृत व फारसी में बेहतर कार्य के लिए प्रतिष्ठित वादरायण व्यास सम्मान ने पुरस्कृत किया है। देश के चार अन्य लोगों को भी इस पुरस्कार से नवाजा गया है। यह पुरस्कार प्राचीन भारतीय भाषाओं को बढ़ावा देने के लिए दिया जाता है।

डा. शुक्ल को संस्कृत व फरसी भाषा को बढ़ावा देने के लिए यह सम्मान मिला है। इनकी अब तक संस्कृत में दो व फारसी में एक पुस्तक भी प्रकाशित हो चुकी है। डा. बलराम शुक्ल की इस उपलब्धि पर जीएसबीएस इंटर कालेज के प्रधानाचार्य त्रियुगी नारायण त्रिपाठी, सेवानिवृत शिक्षक विद्यासगर राय सहित अन्य लोगों ने खुशी जतायी है। दूरभाष पर हुई वार्ता में डा. शुक्ल ने बताया कि राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित होने से वे अपने को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। यह सम्मान उनका व्यक्तिगत नहीं वरन पूरे जिले का सम्मान है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर