लखनऊ, जेएनएन। गोसाईगंज में इंदिरा नहर में गोमती नदी पुल के पास मंगलवार सुबह युवक-युवती के शव उतराते मिले। दोनों के पैर आपस में बेल्ट से बंधे थे। आशंका जताई जा रही है कि युवक-युवती की हत्या कर शव नहर में फेंके गए हैं। पुलिस के मुताबिक मृतकों की शिनाख्त नहीं हो सकी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

नहर में दो शव एक साथ उतराते दिखने की सूचना सूचना इलाके में आग की तरह फैल गई। आनन-फानन पुलिस मौके पर पहुंची और गोताखोरों की मदद से शवों को बाहर निकाला गया। इसके बाद पता चला कि शव युवती-युवक के हैं। 

बाहर से बहकर आने की आशंका

दोनों की उम्र 26 वर्ष के आसपास बताई जा रही है। शव आपस में बंधे थे। युवक का एक पैर युवती के दूसरे पैर से बेल्ट से बंधा था। शव कई दिन पुराने होने के कारण मृतकों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। पुलिस का कहना है कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि दोनों शव कहीं से बहकर आए हैं। पुलिस प्रथम दृष्टया इसे आत्महत्या मान रही है। स्थानीय लोगों ने शवों की पहचान करने की कोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिली। 

आसपास के जिलों के थानों में भेजी गई सूचना
युवती के शरीर पर जेगिंग्स और टॉप तथा युवक के शरीर पर जींस और शर्ट थी। पुलिस ने राजधानी के सभी थानों और आसपास के जिलों में शवों के मिलने की सूचना भेज दी है। गोसाईगंज पुलिस का कहना है कि पता लगाया जा रहा है कि कहीं दोनों की गुमशुदगी तो दर्ज नहीं है। शवों की शिनाख्त के बाद पूरा मामला उजागर हो सकेगा। पुलिस ने दोनों शव पोस्टमार्टम हाउस में रखवाए हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस