लखनऊ, राज्य ब्यूरो। दो साल से बड़े बच्चों व किशोरों को कोवैक्सीन लगाए जाने की अनुमति मिलने के बाद यूपी में तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। यूपी में करीब पौने आठ करोड़ बच्चों व किशोरों को वैक्सीन लगाई जाएगी। दो से 18 साल तक के बच्चों व किशोरों का ब्योरा जुटाया जा रहा है। सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (एसईसी) की मंजूरी के बाद अब दवा नियामक ड्रग कंट्रोलर जनरल आफ इंडिया (डीसीजीआइ) की मुहर कभी भी लग सकती है। ऐसे में प्रदेश में तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। ताकि केंद्र द्वारा दिशा-निर्देश जारी होती ही आसानी से टीकाकरण अभियान शुरू किया जा सके। अभी गाइडलाइन जारी नहीं हुई है लेकिन उम्मीद जताई जा रही है कि पहले गंभीर रोगों से ग्रस्त बच्चों को टीका लगाया जा सकता है। 

यूपी में दो साल से 18 साल तक के बच्चों व किशोरों को वैक्सीन लगाने में कोई दिक्कत न हो इसके लिए पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। अभी देश में 18 वर्ष से अधिक उम्र के कुल 14.74 करोड़ वयस्कों को टीके लगाए जा रहे हैं। देश में अब तक सबसे ज्यादा 11.74 करोड़ टीके यूपी में लगाए गए हैं। 27 सितंबर को एक दिन में सर्वाधिक 38.44 लाख टीके लगाने का कीर्तिमान भी प्रदेश के खाते में है। ऐसे में आगे भी टीकाकरण अभियान में प्रदेश अव्वल रहे इसके लिए पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। राज्य टीकाकरण अधिकारी डा. अजय घई ने बताया कि दो वर्ष से 18 वर्ष तक की उम्र के बच्चों व किशोरों का ब्योरा एकत्र किया जा रहा है। केंद्र की गाइडलाइन के अनुसार टीका लगाया जाएगा।

प्रदेश में किस आयु वर्ग के कितने लोग 

आयु वर्ग लोग                (करोड़ में)

  • 60 वर्ष से अधिक           1.87
  • 45 से 60 वर्ष तक           2.89
  • 19 से 44 वर्ष तक           9.97
  • दो से 18 वर्ष तक            7.75

Edited By: Vikas Mishra