लखनऊ (जेएनएन)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक जनपद-एक उत्पाद समिट में खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इसके जरिये हम पांच वर्षों में 25 लाख युवाओं को रोजगार मुहैया कराएंगे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में विकास की संभावनाएं जापान और थाईलैंड से ज्यादा हैं। इन देशों की यात्रा के दौरान मुझे यह महसूस हुआ।योगी ने ओडीओपी योजना के तहत राष्ट्रपति द्वारा ऑनलाइन 4095 युवाओं को 1006 करोड़ रुपये ऋण वितरित किये जाने पर आभार प्रकट करते हुए भरोसा दिया कि उत्तर प्रदेश की परंपरागत तस्वीर बदल देंगे।

बड़ी चुनौती थी युवाओं का पलायन रोकना

उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस मनाने के राज्यपाल के सुझाव और फिर उसके क्रियान्वयन के दौरान ओडीओपी योजना की खोज की चर्चा करते हुए योगी ने कहा कि जब हमें उत्तर प्रदेश की सरकार चलाने का मौका मिला तब तमाम तरह की चुनौतियां थीं। मैंने युवाओं का पलायन रोकने के लिए अभूतपूर्व कदम उठाने का फैसला किया और इसका निष्कर्ष ओडीओपी योजना है। उन्होंने याद दिलाया कि जब जापान और थाईलैंड के दौरे पर थे तो वहां के विकास ने उन्हें प्रेरित किया। योगी ने कहा कि कृषि के बाद सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्योग में सर्वाधिक संभावना है। योगी ने कहा कि ओडीओपी योजना में स्टार्टअप के लिए 250 करोड़ रुपये की अलग से व्यवस्था की गई है।

शुरू होगी विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 

योगी ने कहा कि अब जल्द ही विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना शुरू होगी। भारत का ग्राम स्वराज स्वयं में स्वावलंबी था। इसे फिर मजबूती देनी है। उन्होंने कहा कि ओडीओपी योजना से पहले इंवेस्टर्स समिट में 81 परियोजनाओं के लिए 61 हजार करोड़ रुपये निवेश हुआ और 50 हजार करोड़ रुपये की योजनाएं पाइप लाइन में हैं। योगी ने कहा कि ओडीओपी योजना से चार हजार से अधिक परिवारों में खुशहाली आई है। इस योजना से हर वर्ष पांच लाख युवाओं को रोजगार मिलेगा। योगी ने कहा कि उप्र की परंपरा को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर एक ब्रांड के रूप में प्रस्तुत कर सकें, यह प्रयास है। 

टोल फ्री नंबर और वेबसाइट का शुभारंभ 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने एक जनपद-एक उत्पाद के लिए टोल फ्री नंबर 18001800888 का बटन दबाकर शुभारंभ किया। यह ओडीओपी की एक हेल्पलाइन सेवा है जिसमें हर तरह की मदद और सुझाव के लिए सलाहकार उपलब्ध रहेंगे। राष्ट्रपति ने ओडीओपी की नई वेबसाइट का भी शुभारंभ किया। इस वेबसाइट में सभी 75 जिलों के उत्पाद और उनकी विशेषता समेत तमाम सूचनाएं उपलब्ध रहेंगी। 

 

By Nawal Mishra