लखनऊ (जेएनएन)। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार प्रदेश के गरीबों को 23 जुलाई से मुफ्त में बिजली का कनेक्शन देगी। इसके लाभ बीपीएल कार्ड धारकों को मिलेगा। इसके साथ ही कैम्प लगाकर सुगम संयोजन का काम भी किया जाएगा। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री तथा सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने बताया कि कहा कि मुख्यमंत्री ने 23 जुलाई को बीपीएल परिवारों को मुफ्त कनेक्शन व सुगम संयोजन देने के कैम्प में सभी दलों के विधायकों से शामिल होने का अनुरोध किया है।

यह भी पढ़ें: गोरखपुर में आज तड़के जगुआर की मॉक ड्रिल

प्रदेश सरकार के एक विशेष अभियान के तहत बिजली कनेक्शन के दस्तावेज मुफ्त में बांटे जाएंगे। बिजली कनेक्शन शहर और गांव दोनों ही जगहों के बीपीएल परिवारों को मिलेंगे। बीपीएल परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन जन प्रतिनिधि 23 जुलाई को देंगे।ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा से लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का निर्बाध विद्युत आपूर्ति का दावा है लेकिन आबकारी मंत्री जय प्रताप सिंह ने अपनी ही सरकार को सवालों से घेर दिया है। जय प्रताप ने ऊर्जा मंत्री को पत्र लिखकर अपने जिले की विद्युत आपूर्ति रोस्टर के अनुसार अनवरत जारी रखने के लिए अफसरों को कड़े निर्देश देने की अपेक्षा की है।

यह भी पढ़ें: 'मास्टर जी' ने तैयार कर दी 'सर जी' की खास पोशाक

सदन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी सरकार विद्युत आपूर्ति में कोई भेदभाव नहीं कर रही है। शाहजहांपुर मे बिजली मिलेगी तो रामपुर में भी मिलेगी। मुख्यमंत्री ने 19 जुलाई की शाम को सदन में यह बात रखी थी और आबकारी मंत्री ने उसी दिन ऊर्जा मंत्री को पत्र लिखकर विद्युत आपूर्ति की समस्या उठाई। इसके पहले सिद्धार्थनगर जिले में विद्युत आपूर्ति ठप होने को लेकर प्रदर्शन भी हो चुके हैं। मंत्री ने इस तरह का सवाल उठाकर अपनी सरकार को आईना दिखाने की कोशिश की है। पत्र लिखने पर आबकारी मंत्री ने बताया कि क्षेत्र में बिजली की दिक्कत होने पर ऊर्जामंत्री से मिला भी थी। क्षेत्रीय विधायकों ने मुख्यमंत्री से भी मुलाकात की थी। मंत्री के मुताबिक अब बिजली आपूर्ति की स्थिति ठीक है। पावर कारपोरेशन के प्रबंध निदेशक विशाल चौहान ने बताया कि 19 जुलाई को पूरे प्रदेश में बिजली की दिक्कत थी लेकिन अब सब कुछ ठीक है। चौहान के मुताबिक बांसी में 31 अगस्त तक 220 केवी का ट्रांसमिशन सब स्टेशन बन जाने पर बिजली आपूर्ति की स्थिति और बेहतर हो जाएगी। उल्लेखनीय है कि योगी सरकार ने जिला मुख्यालय पर 24 घंटे, तहसील मुख्यालय पर 20 घंटे और ग्रामीण अंचलों में 18 घंटे विद्युत आपूर्ति की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें: वक्त बदला, गांव और शहर बदला लेकिन नहीं बदले रामनाथ कोविंद

 

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप