लखनऊ (जेएनएन)। प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने अपने पहले पूर्ण बजट में किसान के साथ युवा को लाभ देने की योजना बना ली है। इस सरकार का मुख्य लक्ष्य प्रदेश के युवा को लैपटॉप के स्थान पर रोजगार देने का है।

योगी आदित्यनाथ सरकार के बजट में साफ है कि लैपटॉप की जगह चार लाख युवाओं को पहले रोजगार देगी। जिससे प्रदेश में बेरोजगारी कम होगी। माना जा रहा है कि यह अब तक का सबसे बड़ा बजट हो सकता है। प्रदेश के विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने संकल्प पत्र में वादा किया था कि उनकी सरकार आने के बाद प्रदेश के इंटर पास छात्रों को मुफ्त लैपटॉप और एक जीबी इंटरनेट कनेक्शन दिया जाएगा। योगी सरकार के बजट में मंशा साफ है कि वो लैपटॉप की जगह चार लाख युवाओं को पहले रोजगार देगी।

जिससे कि प्रदेश में बेरोजगारी कम होगी। उत्तर प्रदेश में लैपटॉप योजना साल 2012 से राजनीति का बड़ा विषय रही है. तब सपा की बड़ी जीत के पीछे इस योजना को बताया गया था। योगी आदित्यनाथ सरकार का फोकस युवा के साथ गांव, किसान व व्यापारी पर ही होगा। रोजगार सृजन के लिए अधिक से अधिक अवसर कैसे पैदा हों इस पर फोकस होगा।

इसके अलावा माना जा रहा है कि साथ ही साथ स्टार्टअप पर जोर होगा। इसी कारण सरकार इस बार खासकर युवाओं को तवज्जो देने की दिशा में कदम बढ़ा सकती है। बजट में इस बार लड़कियों के लिए एक खास तोहफा हो सकता है। कन्या विद्या धन योजना और मुख्यमंत्री बालिका शिक्षा प्रोत्साहन योजना सरकार शुरू कर सकती है।

 

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप