लखनऊ, जागरण संवाददाता। लखनऊ विश्‍वविद्यालय ने स्नातक महाविद्यालयों के शिक्षकों को पीएचडी कराने की अनुमति देने के प्रस्ताव को कार्य परिषद से भी मंजूरी दे दी है। इसके अलावा 64 महाविद्यालयों को भी अनुमोदन दिया गया है। कुलपति प्रो. आलोक कुमार राय की अध्यक्षता में हुई बैठक में कई प्रस्तावों पर मुहर लगा दी गई। एंथ्रोपोलोजी विभाग की शिक्षिका डा. केया पांडेय के प्रोमोशन के मामले में कमेटी बनाने का निर्णय लिया है।

कुलपति प्रो. आलोक कुमार राय ने बताया कि स्नातक कालेजों के पीएचडी कराने की अनुमति प्रदान कर दी गई है। विद्या परिषद से इसे पहले ही मंजूरी दी जा चुकी है। अब पीएचडी आर्डिनेंस को मंजूरी के लिए राजभवन भेजा जाएगा। वहां से अनुमति मिलने के बाद अगले जो भी पीएचडी दाखिले होंगे, उसमें इसे शामिल किया जाएगा।

लखनऊ विवि ने अंग्रेजी और सोशल वर्क में पीएचडी कोर्स वर्क परीक्षाओं की तिथियां शनिवार को तय कर दीं। पीएचडी अंग्रेजी कोर्स वर्क की लिखित परीक्षा नौ और 10 अगस्त को होगी।

पहले दिन रिसर्च मैथेडोलाजी और दूसरे दिन क्रिटिकल एप्रोचेस टू लिट्रेचर विषय की परीक्षा आयोजित की जाएगी। कला संकाय के अंतर्गत 12 अगस्त को रिसर्च मैथेडोलाजी इन सोशल वर्क और 13 अगस्त को सोशल वर्क : कान्टम्प्रेरी इशूज एंड रिसेंट ट्रेंड की परीक्षा होगी। इसका समय सुबह 11 से 12 बजे तक होगा वहीं, एमएससी चौथे सेमेस्टर फूड प्रासेसिंग और फूड टेक्नोलाजी विषय में प्रोजेक्ट प्रजेंटेशन नौ अगस्त को इंस्टीट्यूट आफ फूड प्रोसेसिंग एंड टेक्नोलाजी में होगा। छात्रों को सुबह 9 बजे उपस्थित होना है।

 

Edited By: Rafiya Naz