बलरामपुर, जेएनएन। रेहराबाजार थाना क्षेत्र में एक महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। महिला ने चार पंचायत कर्मियों पर गैंगरेप का आरोप लगाया है। हैरानी की बात यह है कि पंचायत कर्मियों से सुलह न होने पर पुलिस ने दबाव बनाने के लिए महिला को ही शांतिभंग की आाशंका में चालान कर दिया है। पुलिस अधीक्षक ने महिला थाना में घटना की प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया है।

35 वर्षीया महिला का कहना है कि वह मंगलवार को किसी कार्य से गोंडा गई थी। ग्राम पंचायत सचिव ने उसे फोन करके शाम को रेहराबाजार बुलाया। कहाकि वह उसे घर तक छोड़ देगा। ग्राम पंचायत सचिव ने अपने एक साथी को बाइक से भेजकर महिला को अपने घर बुलवाया। आरोप है कि महिला को कोल्ड ड्रिंक में नशे की दवा मिलाकर पिला दी गई। बेहोशी की हालत में उसके साथ चार पंचायत कर्मियों ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया। देर रात उसका मोबाइल छीनकर भगा दिया। स्थानीय लोगों व यूपी डायल 112 पुलिस की मदद से महिला रेहराबाजार थाना गई। बताया कि पुलिस ने महिला पर सुलह-समझौता करने का दबाव बनाया। इसके लिए तैयार न होने पर प्रभारी निरीक्षक पंकज कुमार सिंह ने उसे बुधवार को शांतिभंग की आशंका में चालान कर दिया। गुरुवार को महिला ने एसपी से मिलकर आपबीती सुनाई। एसपी हेमंत कुटियाल ने बताया कि महिला थाना में प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया गया है। आरोपितों सभी पंचायत कर्मियों को गिरफ्तार किया जाएगा। जांच सीओ सिटी वरुण मिश्र को सौंपी गई है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021