लखनऊ (जेएनएन)। उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने शनिवार को ईद की छुट्टी रद करते हुए पाकिस्तान का झंडा जलाया। बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी व अन्य कर्मचारियों ने पाकिस्तान के आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा की फोटो में भी जलाई और ईद नहीं मनाने की बात कही।
चेयरमैन ने कहा कि जिस घर में मौत हो जाती है वहां ईद नहीं मनाई जाती। हाल में ही एक जवान और पत्रकार को मार दिया गया। एक साल में 12 जवान शहीद हो गए। पाकिस्तान की इसी कायराना हरकत के खिलाफ उसका झंडा जलाया गया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के आर्मी चीफ ने रमजान के पाक माह का भी एहतराम नहीं किया। वह मुसलमान नहीं है तभी ऐसा किया।

आज पाकिस्तान का झंडा जलाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई है। जरूरत पड़ी तो बार्डर पर भी जाएंगे। बोर्ड के चेयरमैन ने कहा कि एक के बदले 10 सिर की बात हुई थी। सब्र कर रहे थे, लेकिन अब एक के बदले 50 ला सकते हैं। अगर जंग की जरूरत है तो हो जाए। पाकिस्तान को उसकी नापाक हरकतों का करारा जवाब दिया जाएगा।

वसीम रिजवी शनिवार दोपहर में इंदिरा भवन स्थित कार्यालय परिसर में कर्मचारियों और कुछ करीबियों के साथ उपस्थित थे। दोपहर करीब एक बजे उन्होंने कर्मचारियों के साथ पाकिस्तान का झंडा व आर्मी चीफ के फोटो को जलाया। इस दौरान हिंदुस्तान जिंदाबाद और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे भी लगाए गए।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जिस घर मे मौत हो जाती है, वहां ईद नहीं मनाई जाती।

हाल में ही जम्मू में पाकिस्तान की सेना ने कायराना हरकत की और सीज फायर का उल्लंघन करते हुए सेना के जवान और पत्रकार की हत्या कर दी। एक वर्ष में हमारी सेना के 12 जवानों की हत्या कर दी गई।

हमने आज इसी कारण ईद न मनाने के साथ ही इसका अवकाश रद कर दिया। इसके साथ ही पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा की तस्वीर और पाकिस्तान के ध्वज को जलाया है।  

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप