बाराबंकी, जेएनएन। इंजीनियरिंग वर्कशाप में चोरी कर भाग रहे बाइक सवार दो युवकों को संचालक व ग्रामीणों ने पीछा कर पकड़ लिया। भीड़ ने पहले चोरों को जमकर धुना और फिर खंभे में बांध दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपितों को ग्रामीणों के कब्जे से मुक्त कराकर हिरासत में ले लिया है। आरोपितों की निशानदेही पर पुलिस ने एक कबाड़ी की दुकान से चोरी का लोहा भी बरामद किया है।

करीब दो सप्ताह से दोनों युवक इंजीनियरिंग वर्कशॉप से लोहे का सामान चोरी कर सरैया के सुभाष को बेच रहे थे। इंजीनियरिंग वर्कशाप के संचालक शिव कुमार यादव ने सोमवार की रात वर्कशाप में लगे सीसी टीवी से चोरों की गतिविधियों पर नजर रख रहे थे। राधेश्याम यहां अपने एक रिश्तेदार के यहां आया हुआ था। साजिद और राधेश्याम लोहे का भारी सामान बाइक पर लादकर जाने लगे, तभी शिव कुमार ने ग्रामीणों की मदद से दोनों को दौड़ाकर पकड़ लिया।

जानकारी गांव के अन्य लोगों को हुई तो मौके पर भीड़ एकत्र हो गई। इसके बाद भीड़ ने आरोपितों को पीटना शुरू कर दिया। पिटाई के बाद ग्रामीणों ने आरोपितों को बिजली के खंभे भी रस्सी से बांध दिया। सचूना पर पहुंची गदिया चौकी पुलिस ने आरोपितों को अपने कब्जे में लिया। पूछताछ में पता चला कि यह दोनों लोहे का सामान चोरी कर सरैया के सुभाष को बेचते थे। आरोपितों की निशानदेही पर पुलिस कबाड़ी की दुकान पहुंची तो मौके पर पांच एंगल लोहे के चोरे वाले बरामद हुए। दोनों आरोपितों को पुलिस कोतवाली नगर ले गई है। चौकी इंचार्ज गदिया जितेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि दो  युवक पकड़े गए हैं, जांच की जा रही है।

चोर को खंभे से बांधा

वहीं देवा थाना में लखनऊ रोड पर स्थित एक धर्माकाटा में घुसकर चोरी कर रहे चोर को शौच से लौटे चौकीदार नूर आलम ने पकड़ लिया। शोर मचाने पर गांव के लोग एकत्र हो गए। लोगों ने चोर की  पिटाई तो नहीं की, लेकिन उसे खंभे में बांध दिया। पकड़ा गया आरोपित देवा के ही बड़ाताल का रहने वाला गुड्डू चौहान है। चोर को ग्रामीणों ने रात भर खंभे में बांधे रखा। मंगलवार सुबह पुलिस आरोपित को साथ ले गई। नवागत कोतवाल धीरज कुमार  ने मामले  की जानकारी से इन्कार किया है।

Edited By: Anurag Gupta