अंबेडकरनगर, संवाद सूत्र। कोतवाली अकबरपुर के बैरमपुर बरवां निवासी सड़क हादसे में घायल युवक की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। परिवारजन ने हत्या की आशंका जताते हुए अकबरपुर-अयोध्या मार्ग को जाम कर प्रदर्शन किया। हत्या का कारण करोड़ों रुपये की भूमि बेचने को बताया जा रहा है। पुलिस जांच-पड़ताल में जुटी है। मृतक के दोनों हाथ के अंगूठे पर स्याही लगी है। जिला मुख्यालय से सटे बैरमपुर बरवां गांव का विष्णु राजभर गत शुक्रवार की देरशाम करीब आठ बजे अकबरपुर-अयोध्या मार्ग पर हुए सड़क हादसे में घायल हो गया था। जिला अस्पताल लाने के बाद कुछ लोग उसे हरैया (बसखारी) के पास हड्डी के एक निजी डाक्टर के यहां लेकर चले गए। यहीं इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। विष्णु राजभर के दोनों हाथ के अंगूठे में स्याही लगी मिली है। इससे घटना कुछ अलग ही संकेत दे रही है।

परिवारजन का आरोप है कि विष्णु की हत्या की गई है। आक्रोशित ग्रामीणों ने शनिवार की सुबह अकबरपुर-फैजाबाद मार्ग जाम कर प्रदर्शन किया। क्षेत्राधिकारी एवं प्रभारी निरीक्षक अमित सिंह ने लोगों को समझाकर जाम खुलवाया। परिवारजन का आरोप है कि भू माफिया ने विष्णु की करोड़ों की पांच बीघा जमीन का बैनामा करा लिया तथा दुर्घटना का रूप देकर हत्या कर दी। उन्होंने जमीन का बैनामा कराने वाले दो लोगों के खिलाफ पुलिस को तहरीर सौंपी है।

प्रभारी निरीक्षक का कहना है कि अभी तहरीर नहीं मिली है। विष्णु राजभर शुक्रवार देरशाम फैजाबाद मार्ग स्थित पेट्रोल पंप के सामने परिवहन निगम की बस से घायल हो गया था। इसके बाद इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। स्थानीय लोगों का दावा है कि अज्ञात वाहन से आए एक व्यक्ति ने विष्णु को सड़क किनारे उतार दिया। इसी दौरान पीछे से आई रोडवेज बस ने उसे टक्कर मार दी। चर्चा है कि भू माफिया ने विष्णु राजभर को पहले नशे का इंजेक्शन दिया। नशे की हालत में सड़क पर उतारे जाने से वह दुर्घटना का शिकार हो गया।

Edited By: Anurag Gupta