लखनऊ, जेएनएन। हर किसी को लोक गीत और नृत्य से जोडऩे के लिए आठ वर्षीय वागीशा का पांच घंटे नृत्य कर विश्व रिकॉर्ड पूरा कर लिया है। रविवार को फ्रेंडलीज रेस्टोरेंट, अलीगंज में सुबह 11:30 से प्रस्तुति कर रही थी। बता दें, सृजन फॉउंडेशन की ओर से कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। नृत्य पूरा करने के बाद कार्यक्रम की सीडी, कवरेज एवं दो लोगों की गवाही के साथ फॉर्म गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्‍ड रिकॉर्ड में संस्तुति के लिए भेजा जाएगा।

हल्द्वानी में पैदा हुई वागीशा सीएमएस, इंदिरा नगर में कक्षा चार की छात्रा हैं। पांच साल की उम्र से लोक नृत्य सीखना शुरू किया। भरतनाट्यम का प्रशिक्षण भी ले रही हैं। अब तक करीब 400 मंचीय प्रस्तुतियां दे चुकी हैं। विशेषकर अवधी, भोजपुरी एवं कुमाऊनी गीतों पर परफॉर्म करती हैं। अवधी सोहर एवं विवाह गीत पर प्रस्तुति को विभिन्न मंचों पर खूब सराहा गया। ताज महोत्सव, कुंभ महोत्सव, कपिलवस्तु महोत्सव, मगहर महोत्सव, फिरोजाबाद स्थापना दिवस, बुलंदशहर महोत्सव, बस्ती महोत्सव, देवरिया महोत्सव, शाहजहांपुर महोत्सव, पूर्वांचल साहित्य महोत्सव, नौचंदी मेला मेरठ (447 स्थापना दिवस), मुरादाबाद एवं भदोही महोत्सव में प्रस्तुतियां दे चुकी हैं। 

अभिनय के साथ ब्रांड एंबेस्डर भी 
वागीशा ने तीन तलाक मुद्दे पर आधारित फिल्म कोड ब्लू में भी काम किया। फिल्म कुंभ में बाल कलाकार की मुख्य भूमिका में रहीं। सड़क सुरक्षा को लेकर बनी शार्ट फिल्म ताकि अलग ना हों भाई-बहन में मुख्य भूमिका निभायी।

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस