लखनऊ, राज्य ब्यूरो। यूपी में जुलाई में तीन करोड़ वैक्सीन लगाए जाने का लक्ष्य तय किया गया था, लेकिन अब तक केवल 1.15 करोड़ टीके ही लगाए गए हैं। ऐसे में तय लक्ष्य से आधे ही टीके लग पाएंगे। केंद्र से कम वैक्सीन मिलने के कारण अभियान सुस्त पड़ गया है। फिर भी यूपी 4.27 करोड़ टीके लगाकर देश में अव्वल है। दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र में 4.04 करोड़ वैक्सीन लगाई गई है। जुलाई में केंद्र से अभी तक 1.25 करोड़ टीके ही मिले हैं जबकि तीन करोड़ मिलने की उम्मीद जताई जा रही थी।

गुरुवार को प्रदेश में वैक्सीन लगाने के लिए 4,949 टीकाकरण केंद्र बनाए गए और 7.22 लाख लोगों को टीके लगाए गए। पिछले महीने जून में आठ हजार तक केंद्र बनाए जा रहे थे। जून में एक करोड़ वैक्सीन लगाए जाने का लक्ष्य तय किया गया था, लेकिन इससे कहीं अधिक 1.29 करोड़ वैक्सीन लगाई गई थी। ऐसे में जुलाई में तीन करोड़ वैक्सीन लगाने का लक्ष्य तय किया गया।

क्लस्टर माडल के तहत प्रत्येक जिले के तीन ब्लाक में गांव-गांव टीमें भेजकर वैक्सीन लगाई जाने लगी। इसे हर जिले के सभी ब्लाक में विस्तार देना था, लेकिन वैक्सीन की कमी के कारण यह नहीं हो पा रहा बल्कि तीन ब्लाक में ही क्लस्टर माडल के तहत टीके लगाना मुश्किल हो रहा है। क्योंकि इसके लिए भी हर दिन न्यूनतम आठ लाख वैक्सीन की जरूरत पड़ रही है। अब टीकाकरण अभियान तभी जोर पकड़ेगा जब केंद्र से ज्यादा वैक्सीन मिलेगी।