लखनऊ, जेएनएन। पहाड़ों पर बारिश-बर्फबारी के आसार हैं। ऐसे में मैदानी इलाकों में भी ठंड बढ़ेगी। दिन में जहां देर तक कोहरा छाया रहेगा। वहीं ठंडी हवा भी चलेगी। लिहाजा, नए वर्ष के जश्न पर ठंड पर भारी पड़ सकती है।मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के मुताबिक पाक से सटे क्षेत्र में विक्षाेभ बना हुआ है। ऐसे में पहाड़ों पर हल्की बारिश हो सकती है। साथ ही बर्फबारी भी होगी। लिहाजा, मैदानी इलाकों में भी मौसम में बदलाव आएगा। ठंडी हवा की रफ्तार बढ़ेगी। उत्तरी-पश्चि‍मी हवा गलन बढ़ाएगी। वहीं दिन में धूप का असर भी कम होगा। कोहरा देर तक छाया रहेगा। अब नए साल में लोगों को कड़ाके की ठंड से सामना करना पड़ेगा।

अधिकतम व न्यूनतम पारा दोनों में गिरावट आएगी। रविवार को दिन में आसमान साफ रहा। वहीं धूप भी निकली। मगर, सोमवार को मौसम ने बदलाव की आहट दे दी है। सुबह निकला सूरज बादलों संग आंख मिचौली करता दिखा। अगले 48 घंटे में पारा और लुढ़केगा। रविवार को शहर का अधिकतम तापमान 22.8 डिग्री सेल्सि‍यस दर्ज किया गया। यह सामान्य से .7 डिग्री कम है। वहीं न्यूनतम तापमान 5.9 डिग्री सेल्सि‍यस रिकॉर्ड किया गया। यह सामान्य से 2 डिग्री कम रहा।

कई जनपदों के न्यूनतम तापमान में गिरावट

प्रदेश के कई जनपदों में रविवार को न्यूनतम पारा में गिरावट दर्ज की गई । इसमें हरदोई में 2.1, कानपुर में 1.8, इटावा में 1, खीरी 2.6, गोरखपुर में 2.4, चुर्क 6, वाराणसी में 2.5, बांदा में 4.1 डिग्री सेल्सि‍यस न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे लुढ़का पाया गया । वहीं कुछ जनपदों के अधिकतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। एयर क्वॉलिटी इंडेक्स फिर गड़बड़ा गया। शनिवार को एक्यूआइ जहां तीन सौ नीचे था, वहीं रविवार को लखनऊ का एक्यूआइ 350 पहुंच गया। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप