लखनऊ(जेएनएन)। एकेटीयू के दीक्षा समारोह में बेटियों का डंका बजा। उन्होंने 22 में से जहां16 मेडल झटके। वहीं प्रीति गुप्ता ने सभी सेमेस्टर में टॉप कर प्रतिष्ठित चांसलर मेडल भी हासिल किया। 

कानपुर में रह रहीं प्रीति गुप्ता कुशीनगर के तमकुही राज गांव की मूल निवासी हैं। उन्होंने गाजियाबाद के अजयकुमार गर्ग इंजीनियरिंग कॉलेज से बीटेक में 89.44 फीसद अंक हासिल किए हैं। ऐसे में राज्यपाल ने उन्हें चांसलर मेडल से सम्मानित किया। उनके परिवार में जहां पिता सिविल इंजीनियर हैं, वहीं तीन बहनों में दो इंजीनियर व एक एमबीबीएस कर रही हैं। इसके अलावा भाई इंटर की पढ़ाई कर रहा है। उन्होंने कहा कि सफलता का कोई शॉर्टकट नहीं होता है। छात्रों को सेमेस्टर की शुरुआत से ही मन लगाकर पढ़ाई करनी चाहिए। वहीं लॉजिक्स की तलाश नेट पर करने के बजाय खुद हल निकालने चाहिए। प्रीति का कहना है कि गांवों में अभी बेटियों की शिक्षा को लेकर भेदभाव है। वह भविष्य में प्रोफेसर बनना चाहती हैं। साथ ही बेटियों की शिक्षा के लिए कार्य करने की इच्छा जताई। उन्होंने इसके लिए गांव में गल्र्स स्कूल खोलूंगी।

हरियाणा में बदल रही तस्वीर, घर से ही शुरू करूंगी पहल
हरियाणा निवासी कनुप्रिया राघव ने एमबीए में टॉप कर गोल्ड हासिल किया है। गाजियाबाद के केआइटी कॉलेज से पढ़ाई करने वाली कनुप्रिया अब नेट की तैयारी कर रही हैं। वह लेक्चरर बनना चाहती हैं। मगर हरियाणा में बेटियों के साथ हुए भेदभाव उन्हें चुभते हैं। वह कहती हैं कि खेल के क्षेत्र में जब से बेटियां बुलंदियां छू रही हैं, तब से तस्वीर बदलने लगी है। मगर अभी भी एक बड़ा वर्ग बच्चियों को शिक्षित करने में रुचि नहीं लेता है। वह लड़कों को ही बढ़ावा देता है। कनुप्रिया ने कहा कि मेरे गांव में परिवार की ही अन्य बेटियों को शिक्षा नहीं मिल पा रही है। ऐसे में अब घर से ही पढ़ाई के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए काम करूंगी।

 

1500 मेधावियों को बुलाया 
एकेटीयू से सरकारी व प्राइवेट मिलाकर कुल 597 कॉलेज संबद्ध हैं। दीक्षा समारोह में 1500 मेधावियों को बुलाया गया है। मेडल सूची में संबद्ध कॉलेजों में विभिन्न कोर्सेज के 16 ब्रांच में गोल्ड, सिल्वर व ब्रांज मेडल दिए गए हैं। इसमें 22 गोल्ड, 22 सिल्वर व 22 ब्रांज मेडल शामिल हैं। वहीं, एक चांसलर मेडल मिलाकर कुल 67 मेडल दीक्षांत समारोह में दिए। प्रतिष्ठित चांसलर गोल्ड मेडल अजय कुमार गर्ग इंजीनियरिंग कॉलेज गाजियाबाद की बीटेक कम्प्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग की छात्र प्रीती गुप्ता को दिया गया। बता दें, विवि के कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक की अध्यक्षता में गुरुवार शाम चार बजे पूर्वाभ्यास किया गया। 

Posted By: Anurag Gupta