प्रयागराज [राज्य ब्यूरो]। चिकित्सकीय व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने  डर्मेटोलाजिस्ट पद का परिणाम घोषित किया है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा विभाग के अंतर्गत एलोपैथिक चिकित्साधिकारी श्रेणी-2 के तहत डर्मेटोलाजिस्ट की 75 पदों की भर्ती निकाली गई थी। कुल पदों के सापेक्ष 29 अभ्यर्थियों का चयन हुआ है। योग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण 46 पदों को खाली छोड़ा गया है। चयनितों में टाप थ्री श्रेणी में महिला अभ्यर्थी शामिल हैं। सौम्या गोयल को प्रथम, शिवानी शर्मा को द्वितीय व ऊषा चंद्रा को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ है। कुल चयनितों में 16 महिला अभ्यर्थियों को सफलता मिली है।

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने सीधी भर्ती के तहत चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा विभाग (एलोपैथी) के अंतर्गत एलोपैथिक चिकित्साधिकारी श्रेणी-2 की भर्ती निकाली थी। इसका विज्ञापन 28 मई 2021 को जारी हुआ था। इसमें विशेषज्ञों के 16 प्रकार के कुल 3,620 पदों की भर्ती के लिए आनलाइन आवेदन मांगा गया था। डर्मेटोलाजिस्ट पद के अभ्यर्थियों का साक्षात्कार छह व सात अक्टूबर को लिया गया।

यूपीपीएससी कीभर्ती में अनारक्षित श्रेणी के तीन, ओबीसी के 20, अनुसूचित जाति के 15, अनुसूचित जनजाति के एक व आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के सात पदों पर योग्य अभ्यर्थी नहीं मिले। इससे उसे पुनर्विज्ञापित करने का निर्णय लिया गया है। आयोग के उप सचिव विनोद कुमार सिंह ने बताया कि सशर्त चयनितों को समस्त शैक्षिक दस्तावेज तय तारीख के अंतर्गत जमा करने होंगे। ऐसा न करने वालों का अभ्यर्थन निरस्त करने की कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Umesh Tiwari