लखनऊ, जेएनएन। UPMRC Update: उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशेन लिमिटेड (यूपीएमआरसी) ने नार्थ साउथ कॉरिडोर के 23 किमी मेट्रो रूट  पर यात्रियों  की सुविधा के लिए बेहतर सुविधा मुहैया कराई है। अब हजरतगंज मेट्रो स्टेशन की तर्ज पर चारबाग, विश्वविद्यालय व मुंशी पुलिया मेट्रो स्टेशन कियास्क लगाने जा रहा है। इन कियास्क के जरिए वह मेट्रो यात्री रैपिडो का लाभ ले सकेंगे। जो एंड्रायड फोन इस्तेमाल नहीं करते। कियास्क पर कार्यरत कर्मी अपने फोन से पहले यात्री द्वारा बताए गए रूट के लिए रैपिडो बुक करेंगे। अगर यात्री के पास एंड्रायड फोन है तो एप डाउनलोड करवाकर उसे रैपिडो बाइक बुक कराने का तरीका बताएंगे। 

यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने बताया कि यात्रियों की सुविधा के लिए यह कदम उठाया गया है। वर्तमान में फीडर कनेक्टिविटी की तर्ज पर रैपिडो काम करेगी। नार्थ साउथ कॉरिडोर के 21 मेट्रो स्टेशनों के आसपास चार सौ रैपिडो बाइक मौजूद रहेंगे। यात्री इनका सुबह छह बजे से रात दस बजे तक लाभ ले सकेंगे। उन्होंने बताया कि रजिस्टर्ड गो स्मार्ट कार्ड यूजर्स फ्लैट 40 फीसद तक की छूट लाभ उठा सकते हैं। हालांकि इसके लिए गो स्मार्ट कार्ड जो लखनऊ मेट्रो में डेढ लाख के आसपास है, उन्हें पहले लखनऊ मेट्रो एप पर अपने कार्डको रजिस्टर करवाना होगा। यूपीएमआरसी एमडी के मुताबिक यात्री की सुरक्षा व संरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा। क्योंकि रैपिडो बाइक चालकों का पूरा ब्योरा दर्ज है। इसलिए जो पैसा सिस्टम यानी मोबाइल पर पर दिखाएंगा वहीं यात्रियों को देना होगा। 

यात्रियों की डिमांड पर हर स्टेशन पर मिलेगी सुविधा 

मेट्रो में यात्रियों की डिमांड पर आने वाले चंद सप्ताह में सभी मेट्रो स्टेशनों पर कियास्क लगाए जाएंगे। यात्रियों की संख्या वर्तमान में 19 हजार के आसपास प्रतिदिन है। यह संख्या दिन पर दिन बढ़ रही है। लॉक डाउन से पहले मेट्रो में यात्रियों का ग्राफ सत्तर हजार से ऊपर पहुंच गया था। एमडी के मुताबिक यात्री अगर कंट्रोल से कियास्क की डिमांड करता है तो रैपिडो बाइक संचालकों से वार्ता करके उन स्टेशनों पर भी लगवाया जाएगा, जहां ज्यादा जरूरत है।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस