लखनऊ, जागरण संवाददाता। विजयदशमी यानी दशहरा के पर्व के मौके पर बुधवार को सुबह से हुई मूसलधार बारिश से रावण और मेघनाद दिन भर भीगते रहे। कुछ जगहों पर तो उनके पुतले गिर तक गए। प्रदेश के ज्यादातर जिलों में जमकर बरसात दर्ज की गई। मौसम विभाग ने नौ अक्टूबर तक प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में भारी बारिश के लिए चेतावनी जारी की है।

सबसे अधिक बारिश गोरखपुर में

बुधवार को सबसे अधिक बारिश गोरखपुर में 86.6 मिलीमीटर और बहराइच में 78.8 मिलीमीटर दर्ज की गई। इसके अलावा लखनऊ में 61.4 मिलीमीटर, कानपुर नगर में 53.2 मिलीमीटर, फुरसतगंज में 47.0 मिलीमीटर, कानपुर देहात में 18.2 मिलीमीटर, सुल्तानपुर में 11.6 मिलीमीटर, प्रयागराज में 12.8 मिलीमीटर, वाराणसी में 7.6 मिलीमीटर, उरई में 9.0 मिलीमीटर, हमीरपुर में 6.0 मिलीमीटर और गाजीपुर में 1.6 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। इसके अलावा हरदोई, इटावा, बलिया, बस्ती, मेरठ समेत प्रदेश के अन्य जिलों में छिटपुट बारिश दर्ज हुई।

लखनऊ के तापमान में महज दो डिग्री का फर्क रहा

बुधवार को लखनऊ के अधिकतम और न्यूनतम तापमान में महज दो डिग्री का फर्क रहा। दिन के समय का तापमान आठ डिग्री तक नीचे गिर गया। वहीं रात के समय में ढाई डिग्री तापमान कम रहा। अधिकतम तापमान 26.1 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 24.5 डिग्री सेल्सियस रहा। लखनऊ में 61.4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। प्रदेशभर में हुई झमाझम बारिश के चलते दिन के समय तापमान में गिरावट रही। सबसे अधिक तापमान आगरा में 33.4 डिग्री, अलीगढ़ में 33.2 डिग्री और कानपुर में 33 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं प्रदेश में न्यूनतम तापमान बस्ती और चुर्क में 23 डिग्री सेल्सियस पर रहा।

नौ अक्टूबर तक होगी भारी बारिश

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, नौ अक्टूबर तक प्रदेश भर में मध्यम से भारी बरसात के आसार हैं। अलग-अलग जिलों में गरज और चमक के साथ भारी बरसात के लिए यलो और आरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है। येलो अलर्ट के तहत बारिश के प्रति सचेत रहने की आवश्यकता है। वही आरेंज अलर्ट के अनुसार भारी बारिश से नुकसान होने की आशंका है। गुरुवार को श्रावस्ती, बहराइच, लखीमपुर खीरी, शाहजहांपुर, पीलीभीत, बरेली और रामपुर में अत्यधिक भारी बारिश के प्रति सावधानी बरतने के लिए आरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

Edited By: Vrinda Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट