लखनऊ, [राज्य ब्यूरो]। सहारनपुर के टपरी स्थित देशी शराब की फैक्ट्री में करोड़ों रुपये की कर चोरी के मामले में एसटीएफ ने वांछित ट्रांसपोर्टर सत्यवान शर्मा को गिरफ्तार किया है। उस पर 25 हजार रुपये इनाम घोषित था। एसटीएफ ने आरोपित को सत्यवान को हरियाणा के महेंद्रगढ़ स्थित उसकी ससुराल से गिरफ्तार किया था। उसे विशेष जांच दल (एसआइटी) को सौंप दिया गया।

एसटीएफ के एएसपी विशाल विक्रम सिंह ने बताया कि सत्यवान गिरफ्तारी से बचने के लिए दिल्ली व हरियाणा में स्थान बदल-बदल कर रह रहा था। सूचना मिली थी कि कुछ दिनों से वह महेंद्रगढ़ स्थित अपनी ससुराल में है। जिसके बाद उसे महेंद्रगढ़ से पकड़ा गया। पूछताछ में उसने बताया कि वह और उसका भाई जय भगवान शर्मा मिलकर शर्मा ट्रांसपोर्ट कंपनी व एसबीटीसी कंपनी का संचालन करते हैं। उसका भाई जय भगवान करोड़ों की कर चोरी के मामले में ही तीन मार्च को गिरफ्तार हुआ था। वह कोआपरेटिव कंपनी लिमिटेड, टपरी का मुख्य ट्रांसपोर्टर था। फैक्ट्री में नियुक्त अधिकारियों की मिलीभगत से उसके ट्रकों के जरिये ही एक ही गेट पास पर दो बार शराब निकाली जाती थी। हर अवैध चक्कर में करीब 35 लाख रुपये की कर चोरी की जाती थी। अवैध चक्कर के दौरान फैक्ट्री के गेट पर लगे सीसीटीवी कैमरे बंद कर दिए जाते थे। सत्यवान ट्रक में लगे जीपीएस सिस्टम के सिम को उल्टा करवा देता था, जिससे लोकेशन दर्ज नहीं होती थी। इससे पूर्व वह पिलखनी शराब फैक्ट्री में भी अपने ट्रक लगवाता था और अवैध शराब की ढुलाई का काम करता था। उल्लेखनीय है कि करोड़ों की कर चोरी के इस मामले की जांच वर्तमान में एसआइटी कर रही है। ईडी भी इस मामले की जांच कर रही है।

Edited By: Rafiya Naz